क्या अशोक गहलोत "कांग्रेस अध्यक्ष" पद के लिए है प्रबल दावेदार

क्या अशोक गहलोत

दिल्ली : कांग्रेस पार्टी को अगले महीने की 20 तारीख से पहले नया अध्यक्ष चुनना है।इस तारीख  के नजदीक आने के साथ ही चर्चांए तेज हो गईं हैं कि देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी की कमान अब किसके हाथ आएगी। एक तरफ राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष बनना नहीं चाहते  वहीं उन्होंने घोषणा की थी कि अगला अध्यक्ष नेहरू-गांधी परिवार से नहीं होगा ऐसे में सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के भी अध्यक्ष बनने की संभावना कम है।इस बीच चर्चा है कि पार्टी की कार्यवाहक अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अशोक गहलोत से पार्टी की कमान संभालने का आग्रह किया है।

गहलोत ने सोनिया गांधी से मिलने के सवाल पर कहा यह

Also Read धरती का सीना चीर बाहर निकली टीबीएम 'नाना', कानपुर मेट्रो ने रचा इतिहास

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से जब सोनिया गांधी से मुलाकात और कांग्रेस अध्यक्ष पद संभालने के आग्रह को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा- मेरी तो मुलाकात उनसे होती रहती है। थोड़ी देर पहले भी हुई अब उनसे मुलाकात नहीं होगी, तो किससे होगी, नड्डा से होगी।

अध्यक्ष पद संभालने की बात पर अशोक गहलोत बोले- ये काफी समय से मीडिया वालों ने फैला रखा है।अगर सोनिया गांधी ने मीडिया वालों से कहा हो तो अलग बात है।28 अगस्त को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक है उसी दिन तय होगा कि चुनाव अभी होना है कि बाद में कराया जाए।

जब उनसे कहा गया कि वह कांग्रेस अध्यक्ष बनने की बात से इनकार क्यों नहीं कर देते, तो उन्होंने कहा कि हम सोनिया गांधी से कई पहलुओं पर चर्चा करते रहते हैं।चुनाव के बारे में भी, राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने के बारे में ओर जो लोकतंत्र की हत्या हो रही है उस पर भी हमारी चर्चा होती है। 

उन्होंने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं. अगर कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं की भावनाएं उनके प्रति अच्छी हैं, तो यह तो अच्छी ही बात है।पार्टी ने उन्हें जो भी काम दिया है, चाहे वो केन्द्रीय मंत्री का हो, प्रदेश अध्यक्ष का हो या फिर महामंत्री बनने का, पार्टी आगे मुझे जो भी काम देगी, वह वो करते रहेंगे।

Recent News

Related Posts

Follow Us