दरोगा साहब का कारनामा , "आरोप" नशे में धुत होकर शिकायतकर्ता को ही फटकारा

दरोगा साहब का कारनामा ,

जालौन :: उत्तर प्रदेश सरकार दावा करती है कि प्रदेश की पुलिस मित्र पुलिस है लेकिन कहते हैं ना कि एक मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है। यह कहा बात बहुत सी जगह सच साबित होती है। उत्तर प्रदेश के जनपद जालौन के नदीगांव थाना क्षेत्र में एक दरोगा साहब ने मछली और तालाब वाली कहावत को सही साबित कर दिया। वैसे भी पुलिस जनता से तालमेल मिलाने में काफी पीछे रहती है लेकिन ऐसे दरोगा साहब और पुलिस की छवि को धूमिल करते हैं। इस समय उत्तर प्रदेश के जालौन जनपद के दरोगा साहब का एक कारनामा सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो नदी गांव थाना क्षेत्र के नदी गांव बस स्टैंड का बताया जा रहा है। जहां दरोगा शराब ने नशे में धुत होकर पीड़ित के साथ अभद्रता करते हुए जबरन एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराने की कोशिश की। इस धमकी को नजरअंदाज करने पर दरोगा ने पीड़ित के साथ गाली गलौज और मारपीट की। जिसका वीडियो वहां मौजूद लोगों ने बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले की जांच जालौन के पुलिस अधिकारियों ने शुरू कर दी है। बता दें कि नदीगांव थाने में तैनात दरोगा शैलेंद्र सिंह, पीड़ित लालता प्रसाद द्वारा की गई एक शिकायत की विवेचना कर रहे थे। जिसको लेकर पीड़ित लालता प्रसाद को दरोगा ने थाने बुलाया था, थाने पहुंचने पर लालता प्रसाद को दरोगा शैलेंद्र सिंह नहीं मिले, जिस कारण वह वापस लौट आया।

कोरे कागज पर चाहिए था दरोगा साहब हस्ताक्षर

Also Read उत्तर प्रदेश में GST TEAM की ताबड़तोड़ छापेमारी , टैक्स चोरी के आरोपों में व्यापारी हलकान कई में नाराजगी-रोष व्याप्त

शाम के वक्त दरोगा साहब का शिकायतकर्ता लालता के पास फोन आया और जरूरी कागजातों पर हस्ताक्षर करने की बात कही। और लालता को नदी का बस स्टैंड चौराहे पर आने के लिए कहा।

जिसके बाद लालता दरोगा के बताए स्थान पर जाता है। जहां उससे जांच करने वाले दरोगा कोरे कागज पर हस्ताक्षर करने की बात कहते हैं। जिस पर पीड़ित लालता मना कर देता है। जिससे आक्रोशित होकर शराब के नशे में धुत दरोगा शैलेंद्र सिंह उसके साथ अभद्रता करने लगते हैं और गाली गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर देते हैं। दरोगा साहब की अभद्रता का वीडियो वहां मौजूद कुछ लोगों ने बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इस वायरल वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि दरोगा किस तरीके से पीड़ित को धमका रहे हैं और उसके साथ गाली गलौच करते हुए मारपीट कर रहे हैं। सोशल मीडिया में इस वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया, जिसके बाद जालौन के एसपी ने मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी को दी है। जिन्होंने इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

मामले की जांच करते हुए एएसपी असीम चौधरी ने कहा कि सोशल मीडिया में जो वीडियो वायरल हुआ है इस मामले की जांच की जा रही है कि किन कारणों से यह मामला सामने आया है। उन्होंने बताया कि यह वीडियो 16 अगस्त का है जिसमें सादा वर्दी में गाली गलौज करने वाले नदीगांव थाने में तैनात दरोगा शैलेंद्र सिंह है जो एक व्यक्ति के साथ गाली गलौज कर रहे हैं, इस मामले की जांच की जा रही है साथ ही इसमें दरोगा के खिलाफ जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस तरीके के मामले अगर संज्ञान में आते हैं, उसमें तत्काल कार्यवाही की जाती है।

  • रिपोर्ट :: दीपू द्विवेदी (ब्यूरो चीफ)

Recent News

Related Posts

Follow Us