सेना का जवान बनकर महिला डाक्टर से 3 लाख की ठगी

सेना का जवान बनकर महिला डाक्टर से 3 लाख की ठगी

 

चंडीगढ़,30 अगस्त(विजेश शर्मा)- भागदौड़ भरी जिंदगी में आज हर किसी को हर किसी काम की जल्दी है ऐसे में लोगों द्वारा ज्यादातर   ऑनलाइन फ़ूड आर्डर, ऑनलाइन शॉपिंग, बिल भुगतान, रिचार्ज सभी तरह के भुगतान ऑनलाइन करने लगे है जिसको देखते 2 आजकल साइबर क्रिमिनल भी रोज नए नए तरीके खोज लोगों को शिकार बनाने के लिए सक्रिय हो रहे हैं ऐसे में वे कई तरह के बहाने बनाकर लोगों को अपने जाल में फंसा रहे हैं।

Also Read स्कॉर्पियो और बस में सीधी टक्कर 9 जख्मी 3 को किए गए रेफर

ये शातिर पढ़े-लिखे लोगों को भी बेवकूफ बनाकर उनसे ठगी कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला चंडीगढ़ से देखने को मिला है जहां पर शातिर साइबर अपराधियों द्वारा महिला डाक्टर से 3 लाख रुपये की ठगी किये जाने का मामला सामने आया है। शातिर ठग ने खुद को सेना का जवान बताया और अपनी बातों में उलझाकर उससे ठगी कर ली।

सेना का जवान बनकर बच्चों के लिए मेडिकल कैंप लगाने का झांसा देकर महिला डाक्टर से तीन लाख रुपये की ठगी की वारदात हुई है। सेक्टर-37बी निवासी डा. सौम्यता त्रिपाठी की शिकायत पर साइबर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस आरोपित के मोबाइल नंबर, पैसे ट्रांजेक्शन के लिए बैंक अकाउंट की जांच कर रही है। 

ठगी का शिकार हुई डा. सौम्यता त्रिपाठी ने बताया कि उन्हें 23 अगस्त को एक अज्ञात नंबर से काल आई थी। काल करने वाले ने बताया कि वह इंडियन आर्मी से डा. सतीश बात कर रहा है। उसे चंडीगढ़ के डा. अजय से आपकी जानकारी मिली है। उसने कहा कि वह सेना के जवानों के बच्चों के लिए एक मेडिकल कैंप लगाना चाहता है।

इस संबंध में आपकी मदद चाहिए। डा. सौम्यता ने हामी भर दी और 20 हजार रुपये मेडिकल कैंप के लिए उसे ट्रांसफर कर दिए। डा. सौम्यता ने पहले पैसे ट्रांसफर करने के लिए मना किया लेकिन शातिर ने आर्मी का प्रोटोकाल बताकर एडवांस पैसे लेने के लिए उसे मना लिया।  

शिकायतकर्ता महिला डॉक्टर ने बताया कि शातिर ठग ने इसके बाद वीडियो काल कर आर्मी प्रोटोकाल के तहत कैंप की प्रक्रिया पूरी करने के लिए निर्देशों की पालना करने की गुजारिश की। इस तरह उसने यूपीआइ समेत बैंक अकाउंट संबंधी अन्य तरह की जानकारी हासिल कर तीन लाख रुपये अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर लिए।

Recent News

Related Posts

Follow Us