कानपुर :: प्र.स.पा नेता विनोद प्रजापति के बरात घर पर बरसे बाबा के बुलडोजर , के.डी.ए ने हटवाया अवैध कब्जा

कानपुर :: प्र.स.पा नेता विनोद प्रजापति के बरात घर पर बरसे बाबा के बुलडोजर , के.डी.ए ने हटवाया अवैध कब्जा

कानपुर : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार इन दिनों भू माफियाओं के खिलाफ एक्शन में दिखाई दे रही है। का बुलडोजर भू माफियाओं के अवैध निर्माण पर जमकर बरस रहा है। इसी क्रम में आज उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर में बर्रा थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक भू माफिया के खिलाफ केडीए द्वारा कार्रवाई की गई। आपको बता दें कि बर्रा बाईपास चौराहे के निकट बने दिव्यांशी गार्डन जो कि बताया जा रहा है कि भू माफिया विनोद प्रजापति द्वारा कागजों में धोखाधड़ी कर करोड़ों की जमीन पर कब्जा कर लिया गया था। जिस पर केडीए द्वारा आज अवैध कब्जे को हटाया गया मौके पर एसीपी समेत भारी पुलिस बल मौजूद थी साथ ही साथ नगर निगम की टीम और कई बुलडोजर अवैध निर्माण पर चल रहे थे। 

आपको बता दें कि केडीए के एक अधिकारी ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार का नीतिगत निर्णय है कि राज्य में भू माफियाओं के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाए जिसके तहत कानपुर नगर निगम भु माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रही है और अवैध कब्जा करने वालों के कब्जों पर केडीए का बुलडोजर चल रहा है। इसी क्रम में आज केडीए की टीम ने विनोद प्रजापति द्वारा कागजों में हेराफेरी कर बर्रा बाईपास के निकट लगभग 2000 वर्ग गज की जमीन पर अवैध कब्जा किया था जो कि कानपुर विकास प्राधिकरण की है। जिसको आज केडीए की टीम द्वारा अवैध निर्माण को ध्वस्त कराया जा रहा है जिसका कबजा शीघ्र प्राप्त कर लिया जाएगा। केडीए के अधिकारी ने मीडिया से वार्तालाप के दौरान बताया कि हमारे उपाध्यक्ष अरविंद सिंह द्वारा भू माफियाओं के खिलाफ लगभग 1 वर्ष से यह कार्रवाई की जा रही हैं। और आगे भी जारी रहेंगी।

Also Read JOB Alert: शिक्षा विभाग में साढ़े 7 हजार प्राथमिक शिक्षकों की होगी भर्ती

कौन है आखिर भू-माफिया विनोद प्रजापति

उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर के बर्रा थाना क्षेत्र के अंतर्गत दिव्यांशी गार्डन पर आज बाबा के बुलडोजर चलते दिखाई दिए जानकारी हुई कि यह अवैध रूप से कब्जा की गई जमीन की जिसको केडीए द्वारा इसका निर्माण ध्वस्त किया जा रहा है।

आपको बता दें कि जिस विनोद प्रजापति का इस प्रकरण में नाम सामने आ रहा है। वह इस समय प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के जिला अध्यक्ष हैं। और पहले यह समाजवादी पार्टी मे महासचिव थे। जब चाचा भतीजा विवाद सामने आया तो समाजवादी पार्टी को छोड़कर यह प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे। और राजनीति में काफी पुराना इनका नाम शामिल है कुछ दिनों यह बहुजन समाज पार्टी में भी रहे हैं। लेकिन भू माफियाओं की लिस्ट में इनका नाम शामिल होने के बाद एक बाद इनके राजनीति कैरियर पर क्या असर पड़ता है क्या पाना अभी मुश्किल है। फिलहाल केडीए द्वारा आरोप लगाया गया है कि विनोद प्रजापति लगभग 2000 वर्ग गज की भूमि पर अवैध कब्जा कर बरात घर चला रहे थे जिसे केडीए द्वारा आज दोस्त किया गया।

  • रिपोर्ट :: अनुज जैन (ब्यूरो चीफ)

Recent News

Related Posts

Follow Us