एक तरफ बारिश से नुकसान दूसरी तरफ आवारा पशुओं से परेशान , आखिर क्या करे किसान

एक तरफ बारिश से नुकसान दूसरी तरफ आवारा पशुओं से परेशान , आखिर क्या करे किसान

कुठौंद(जालौन):: गौरतलब है कि कि उत्तर प्रदेश के कई क्षेत्रों में बीते 3 दिनों से बारिश हो रही है जिससे किसानों किस फसल को काफी नुकसान हुआ है। और दूसरी तरफ आवारा पशुओं के कारण किसानों का जीना दुश्वार हो चुका है। एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार ने हर गांव में गायों के लिए गौशाला बनाने के लिए कहा है तो वही जमीनी हकीकत कुछ और ही है।

आवारा गोवंश से परेशान किसानों ने लगाई मदद की गुहार

Also Read छात्रों ने महिला टीचर पर अश्लील कमेंट 'I Love You' करते हुए बनाया वीडियो

जनपद जालौन के ब्लाक कुठौन्द क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत निजामपुर में आवारा गौवंश की व्यवस्था अस्थाई गौशाला बनवाकर की गई थी। लेकिन गौशाला में भूसा व चारे की व्यवस्था ना होने से प्रधान द्वारा गोवंशो को अन्ना छोड़ दिया गया है। समस्त किसानों ने विकास खंड कुठौंद परिसर में पहुंच कर खंड विकास अधिकारी को ज्ञापन दिया। किसानों ने बताया कि ग्राम पंचायत निजामपुर(कुठिला) में आवारा गोवंश की व्यवस्था ना होने के कारण किसान भाइयों का नुकसान हो रहा है। ग्राम में अस्थाई गौशाला होने पर भी चारा भूसा की कोई व्यवस्था नहीं है और साथ ग्रामीणों ने बताया कि किसान भाइयों की खेती का नुकसान हो रहा है।

IMG-20220916-WA0018
आवारा पशुओं से परेशान ग्रामीणों ने खंड विकास अधिकारी को दिया ज्ञापन

जिसमें कृष्णकुमार यागिक की 3 बीघा, बाजरा की फसल आवारा गोवंश द्वारा चर गई। शिवकुमार कुशवाहा की 5 बीघा,रामचरण राठौर की 3 बीघा, फसल का नुकसान हो गया.इसके साथ ही लंपी जैसी भयानक बीमारिया फेल रही है जिससे निपटने के लिए ब्लॉक कुठौंद के पशु चिकित्सा अस्पताल में कोई व्यवस्था नहीं है जिससे लंपी जैसी घातक बीमारी फैल रही है अगर अति शीघ्र उपचार की व्यवस्था न कराई गई को ब्लॉक कुठौंद के पूरे क्षेत्र में बीमारी फैल जाएगी|

  • रिपोर्ट : पुष्पेंद्र सिंह

Recent News

Related Posts

Follow Us