आवारा पशुओं की बढ़ती तादाद से राहगीरों समेत किसान परेशान

आवारा पशुओं की बढ़ती तादाद से राहगीरों समेत किसान परेशान

सलोन(रायबरेली):: उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला तहसील सलोन में आवारा पशुओं का आतंक इस कदर बढ़ चुका है। गांव-गांव गली-गली कस्बा-कस्बा शहर-शहर यहां तक की सड़कों पर अपनी मस्ती में घूमते हुए नजर आ रहे हैं। योगी सरकार द्वारा जीरो टॉलरेंस में जहां भ्रष्टाचार को खत्म करने की बात कही जा रही है। वही आवारा पशुओं के लिए इनकी कोई भी व्यवस्था देखने को समझने को नहीं मिल रही है ।

आपको बताते चलें सलोन तहसील अंतर्गत आप देख सकते हो कि चाहे रायबरेली प्रतापगढ़ रोड हो चाहे सलोन से जायज नसीराबाद रोड हो चाहे सलोन से ऊंचाहार रोड हो सलोन से मानिकपुर रोड सलोन तहसील के इर्द-गिर्द चारों तरफ आवारा पशुओं से आम जनता को तो जो परेशानी हो रही है। वो हो ही रही है परंतु किसानों को इसका भारी नुकसान चुकाना पड़ रहा है जहां पर सैकड़ों की संख्या में आवारा पशु किसानों के खेत में तांडव मचाते हैं। वहां पर वहां का दृश्य देखते हुए बनता है यही बात नहीं कि किसानों और आम जनता को ही नुकसान हो रहा है।  

Also Read बेकाबू ट्रक ने बाइक सवारों को रौंदा , दो की मौत एक घायल

आवारा पशु भी आए दिन दुर्घटना में अपने मौत साथ औरों की मौत का सामान बनें आवारा घूम रहे हैं। योगी सरकार द्वारा भले ही गौशाला के नाम पर तमाम प्रकार की सुविधा मुहैया कराने की बात कही गई हो परंतु अगर गौशाला की भी स्थिति देखा जाए तो आपका दिल सीना फाड़ कर बाहर आ जाएगा क्योंकि वहां पर गौशाला में जो भी गोवंश हैं। उनको देखकर लगता है कि उनके चारा पानी की कोई व्यवस्था ही नहीं है। उनकी हड्डियां ऐसे झलक रही हैं कि जैसे आज अभी इनकी मौत होने वाली है। सरकार द्वारा गौशाला पर खर्च की जा रही धनराशि को जिम्मेदारों द्वारा बंदरबांट कर मौज उड़ाया जा रहा है। ऐसे में इन आवारा पशुओं से किसानों को आम जनता को कैसे निजात मिल पाएगी यह बहुत बड़ा सवाल है। आखिर योगी सरकार में आवारा पशुओं के लिए तो राम राज्य है। लेकिन किसानों और आम जनता के लिए रावण राज साबित हो रहा है।

  • रिपोर्ट : प्रभास मौर्य

Recent News

Related Posts

Follow Us