बिहार की रैली में पीएम मोदी पर हमले के लिए क्या बनाया गया था प्लान

बिहार की रैली में पीएम मोदी पर हमले के लिए क्या बनाया गया था प्लान

प्रवर्तन निदेशालय के अनुसार जब  7 जुलाई को पीएम मोदी बिहार की रैली में गए थे, तो उन्हें पीएफआई के द्वारा हमला करने का प्रयास किया गया था। पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया ( पीएफआई ) ने पीएम मोदी पर हमला करने के लिए पटना में ट्रेनिंग कैंप लगाया था, जिसमे सभी कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गयी थी। इन सब को रोकने के लिए प्रवर्तन निदेशालय ( ईडी ) ने एनआईए ( NIA ) द्वारा "ऑपरेशन ऑक्टोपस" चलाया था। 

प्रवर्तन निदेशालय ने पीएफआई से पीएम मोदी की रक्षा के लिए ऑप्रेशन ऑक्टोपस चलाया था। एनआईए ( NIA ), ईडी और राज्य पुलिस की सयुंक्त टीम  द्वारा 22 सितम्बर से 11 राज्यों में "ऑप्रेशन ऑक्टोपस " अभियान चलाया गया है, जिसमे कई जगह छापा मारने पर पीएफआई के करीब 106 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। ED ने संगठन के तीन अन्य पदाधिकारियों को दिल्ली से हिरासत में लिया था। इनमें परवेज अहमद, मोहम्मद इलियास और अब्दुल मुकीत का नाम शामिल है।  ED के मुताबिक़ संगठन ने देश में हिंसा फैलाने के लिए करीब 120 करोड़ रुपये जुटाए हैं।  

Related Posts

Follow Us