देश में प्रधानमंत्री समेत सभी लोंगो ने मनायी, पण्डित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती

देश में प्रधानमंत्री समेत सभी लोंगो ने मनायी, पण्डित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती

पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितम्बर 1916 को मथुरा जिले के "नगला चंद्रभान" गांव में हुआ था। पंडित दीनदयाल उपाध्याय भारतीय राजनीतिक चिंतक और राजनेता थे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय भारतीय जनसंघ की स्थापना की और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ( RSS ) संगठनकर्ता भी रहे। पंडित दीनदयाल हिंदुत्व विचारधारा के समर्थक थे, इन्होने भारतीय सनातन परंपरा को नवीनतम युग के अनुसार करने के लिए एकात्म मानववाद की विचारधारा प्रकट की। 

पंडित दीनदयाल उपाध्याय भारतीय जन संघ के संस्थापक थे, जिसका बाद में नाम भारतीय जनता पार्टी पड़ा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी ( बीजेपी ) के विचारक पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय का 'अंत्योदय' पर जोर देना और गरीबों की सेवा करना हम लोंगो को प्रेरित करता है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की उन्हें एक असाधारण विचारक और बुद्धिजीवी के रूप में भी याद किया जाता है, और हमेशा याद किया जायेगा। भारतीय जनता पार्टी ने उनके नाम को अमर बनाये रखने के लिए वर्ष 2017 में कांडला बंदरगाह का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय बंदरगाह और उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्ष 2018 में मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन कर दिया है। जो पंडित दीनदयाल उपाध्याय द्वारा किये गए कार्य को हमेशा याद दिलाता रहेगा।                                                                                 

Related Posts

Follow Us