परंपरागत राजनीति से जम्मू-कश्मीर को 'आजाद' करेगी गुलाम की पार्टी

परंपरागत राजनीति से जम्मू-कश्मीर को 'आजाद' करेगी गुलाम की पार्टी

जम्मू कश्मीर के नेता गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस को छोड़कर नयी पार्टी का गठन किया है। जिसका नाम 'डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी' रखा है। इस पार्टी का गठन करने के लिए गुलाम नबी आजाद ने पूरे  कश्मीर का दौरा किया है, जिसके लिए आजाद ने दिल्ली में कड़ी मंथन किया है। जिसके बाद पार्टी का नाम रखा है। 

कांग्रेस की आलोचना करते हुए आजाद ने कहा की 'कांग्रेस' हमारे खून से बनी है। इसलिए हम ज्यादा दिन तक लोंगो के द्वारा कांग्रेस की बुराई नहीं सुन पाएंगे। क्योंकि कांग्रेस के नेता कभी जमीनी स्तर की बात तो करते ही नहीं है। जब भी वह जमीनी स्तर की बात करते हैं, तो वह ऐसी बात करते हैं तो कांग्रेस का मजाक बनवा लेते हैं। यह सब मुझसे देखा नहीं जाता है और इसी कारण से मैंने कांग्रेस को छोड़कर अपनी 'डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी' का निर्माण कर लिया है। जब उन्होंने अपना त्यागपत्र सोनिया गाँधी को लिखा था तो आजाद ने पार्टी के नेतृत्व का अच्छा नेता न होने की बात भी कही थी। जिससे साफ़ स्पष्ट होता है कि राहुल को अपनी गलतियों को जल्द ही सुधारना पड़ेगा नहीं तो पार्टी के काबिल नेता इसी तरह से पार्टी को छोड़कर नयी पार्टी गठन करते रहे तो पार्टी को काफी नुकशान होता रहेगा। और लगातार विपक्षी पार्टियों का वर्चश्व बना रहेगा। आजाद जम्मू कश्मीर में दो बार 2005 और 2008 में मुख्यमंत्री नियुक्त हुए हैं। जिनका कार्यकाल 9 वर्षो तक कांग्रेस मुख्यमंत्री के रूप में रहा है।  

Related Posts

Follow Us