लगातार हो रही बारिश से गंगा का जलस्तर बढ़ा , परेशान आस-पास बसे गांवों के लोग

लगातार हो रही बारिश से गंगा का जलस्तर बढ़ा , परेशान आस-पास बसे गांवों के लोग

डलमऊ(रायबरेली) :: कई दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश के चलते गंगा नदी के जलस्तर में लगातार बढ़ोत्तरी दर्ज हो रही है। बीते 1 सप्ताह से मंद गति से बढ़ रहे गंगा नदी के जलस्तर के कारण गंगा कटरी क्षेत्र में किसानों द्वारा लगाई गई सब्जी की फसल जलमग्न होने लगी और वहीं पर कटरी क्षेत्र में जानवरों के लिए चारे की समस्या उत्पन्न हो गई है। केंद्रीय जल आयोग डलमऊ द्वारा रविवार को गंगा नदी के चेतावनी बिंदु 98.3 60 तथा खतरे के बिंदु 99 दशमलव 360 के सापेक्ष रविवार की देर शाम को गंगा का जलस्तर 97 दशमलव 250 मीटर नापा गया।

गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र पूरे रेवती, पूरे आंबा,पूरे नया, जहांगीराबाद,लूक चांदपुर,कल्यानपुर बेंती सहित अन्य आसपास गंगा नदी के क्षेत्रों में किसानों द्वारा कटरी क्षेत्र में बोई गई। हरी सब्जी चारा पानी के बहाव में आकर बह कर फसल नष्ट हो गई है। किसानों का भारी नुकसान हुआ है। परंतु प्रशासन गंगा कटरी क्षेत्र में हुए किसानों के नुकसान का आकलन नहीं करा रहा है। गांव के साजन यादव जगदेव रामप्रसाद सजीवन आदि ने बताया कि प्रतिवर्ष गंगा नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी होने से गंगा के किनारे बोई गई सब्जी की फसल नष्ट हो जाती हैं। यही नहीं चेतावनी बिंदु के पार जल स्तर पहुंचने पर आबादी क्षेत्र में पानी पहुंचने के कारण लोगों को विभिन्न प्रकार की गंभीर समस्याओं से गुजरना पड़ता है। लेकिन क्षेत्रीय प्रशासन मुआवजे के नाम पर केवल आश्वासन दिया जाता है। उपजिलाधिकारी डलमऊ आसाराम वर्मा ने बताया कि डलमऊ तहसील क्षेत्र के बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में चेतावनी बिंदु पार करने के बाद ही गंगा नदी के पानी से समस्याएं उत्पन्न होती हैं और बाढ़ से निपटने की समस्त तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

Also Read तेज रफ्तार दो बाइको में भिड़ंत , दोनों चालक सहित तीन जख्मी

 

Related Posts

Follow Us