उत्तरकाशी में आपदा में फंसा 30 ट्रैकर्स का दल

 उत्तरकाशी में आपदा में फंसा 30 ट्रैकर्स का दल

उत्तरकाशी स्थित नेहरु पर्वतारोहण संस्थान में 30 प्रशिक्षणार्थी हिमस्खलन में फंस गए हैं। डोकरानी बामक ग्लेशियर में बीते 22 सितंबर से यह प्रशिक्षण चल रहा था। इस दौरान पर्वतारोही ग्लेशियर के बीच में बड़ी दरार में फंस गए हैं। जिनके रेस्क्यू के लिए सेना बुलाई गई है। 

इस पर्वतारोहण अभियान में 33 प्रशिक्षुओं और सात प्रशिक्षकों सहित 40 लोग शामिल थे जिसमे अभी तक 3 प्रशिक्षु और 7 प्रशिक्षकों को बचाया गया है। सेना ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है। राहत और बचाव के लिए वायुसेना ने अपने दो चीता हेलिकॉप्टर को लगाया है। वायुसेना ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है। कुछ हेलिकॉप्टर को स्टैंड बाई मोड में रखा गया है। इस हादसे में कुछ पर्वतारोहियों की मौत की भी खबर है। जिनकी मौत पर खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दुःख जताते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बात की और हालात के बारे में जाना है। फंसे हुए पर्वतारोहियों की मदद के लिए वायुसेना बचाव कार्य में लगी हुई है।  

 

Recent News

Related Posts

Follow Us