ब्रिटेन के 36 उपग्रह लेकर 22 अक्टूबर को उड़ेगा देश का सबसे भारी रॉकेट

ब्रिटेन के 36 उपग्रह लेकर 22 अक्टूबर को उड़ेगा देश का सबसे भारी रॉकेट

देश में आने वाली 22 अक्टूबर को रॉकेट इंग्लैंड के 36 उपग्रह लेकर श्रीहरीकोटा से उड़ान भरेगा। इन सबको भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन अंजाम देगा। 


देश में नया रॉकेट जियोसिन्क्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल-एमके3 (जीएसएलवी-एमके 3 ) चार टन तक के सैटेलाइट को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर ऑर्बिट जीटीओ के लिए लॉन्च करने में सक्षम है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लॉन्च 21 अक्टूबर की मध्यरात्रि के तुरंत बाद तय किया गया है। यह तीन चरणों वाला रॉकेट है जो ठोस, तरल और क्रायोजेनिक इंजन द्वारा संचालित है।देश का सबसे भारी रॉकेट जीएसएलवी-एमके3 प्रक्षेपण के लिए तैयार है। वह 22 अक्टूबर को ब्रिटेन के स्टार्टअप वनवेब के 36 ब्रॉडबैंड उपग्रहों को लेकर श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरेगा। यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के लिए पहली पूर्णरूप से व्यावसायिक उड़ान होगी। इस साल की शुरुआत में वनवेब के प्रमुख निवेशक एवं शेयरधारक कंपनी भारती इंटरप्राइजेज ने ह्यूजेस कम्युनिकेशंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के साथ वितरण साझेदारी की घोषणा की थी। वनवेब ने कहा था कि उसके लो अर्थ ऑर्बिट एलईओ में प्रथम पीढ़ी के उपग्रहों के समूह का 70 फीसदी लक्ष्य पूरा हो जाएगा। यह दुनियाभर में उच्च गति वाली इंटरनेट सेवाएं उपलब्ध कराने में मददगार है।

Related Posts

Follow Us