पुलिस की निगरानी में उड़ी नियमो की धज्जियां, फिर ट्रैक्टर ट्राली पर निकली सवारी

पुलिस की निगरानी में उड़ी नियमो की धज्जियां, फिर ट्रैक्टर ट्राली पर निकली सवारी

Gonda:: बीते दिनों कानपुर आउटर में हुए सड़क हादसे से प्रदेश में हड़कंप मच गया था। राष्ट्रपति समेत प्रधानमंत्री ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया था एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री उसी दिन कानपुर पहुंचे और घायलों से मुलाकात की और घटना में मृत लोगों के परिजनों से भी बात की थी। गौरतलब है कानपुर में हुए हादसे में 26 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। जिससे हड़कंप मच गया था। 

Gonda police

Also Read शादीशुदा प्रेमी ने सुपारी देकर करवाई प्रेमिका की हत्या , प्रेमिका की सांसे थमने तक.....

इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश यातायात निदेशालय द्वारा ट्रैक्टर ट्राली एवं मालवाहक वाहनों पर जो सवारी ले जा रहे हो उस पर कार्रवाई करने के सख्त निर्देश दिए गए थे। लेकिन इसके बावजूद भी उत्तर प्रदेश की गोंडा पुलिस को शायद है कि नियम निर्देश पता नहीं थे। पुलिस के सामने आज नियमों की धज्जियां उड़ती दिखाई दी। बारावफात त्यौहार के दौरान निकाले गए जुलूस के समय पुलिस के सामने ही ट्रैक्टर ट्रॉली पर कई लोग सवार दिखे। और तो और इन्हें नियमों का उल्लंघन करने से रोकना तो दूर की बात रही , जिला पुलिस प्रशासन द्वारा गोंडा पुलिस के ट्विटर हैंडल से बकायदा इस फोटो को व्यवस्था के रूप में शेयर भी किया गया। और लिखा गया। "जिला पुलिस अधीक्षक गोंडा के निर्देशन में थाना कर्नलगंज क्षेत्र अंतर्गत बारावफात त्यौहार के दृष्टिगत जूलुस में शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु मौजूद प्रभारी निरीक्षक कर्नलगंज एवं अन्य पुलिस बल" लेकिन शायद गोंडा पुलिस ने मात्र कुछ दिन पहले ही यातायात निदेशालय उत्तर प्रदेश द्वारा जारी किए गए आदेश की तरफ ध्यान नहीं दिया। 

अगर हो जाए हादसा तो कौन होगा जिम्मेदार

गोंडा पुलिस द्वारा शेयर की गई तस्वीर में देखा जा सकता है कि जिस ट्रैक्टर ट्रॉली को जुलूस में शामिल किया गया है। उस पर कई मासूम बच्चों समेत कई लोग बैठे दिखाई दे रहे हैं। और तो और पुलिस व्यवस्था में भी लगी है। लेकिन किसी ने यातायात निदेशालय द्वारा जारी किए गए आदेश की तरफ ध्यान नहीं दिया। आखिर क्यों क्या हादसे का इंतजार कर रही है गोंडा पुलिस।‌ या फिर यातायात निदेशालय उत्तर प्रदेश का आदेश गोंडा पुलिस के लिए कोई मायने नहीं रखता। सबसे बड़ा सवाल खड़ा होता है नजरअंदाजगी का बेफिक्र प्रशासन सरेआम आदेशों की धज्जियां उड़ाते देख रहा है।

  • रिपोर्ट :: राहुल तिवारी 

 

 

 

 

 

Recent News

Related Posts

Follow Us