क्या सूर्य ग्रहण के कारण बदली तिथियां , जानिए कब मनाई जाएगी धनतेरस एवं दीपावली

क्या सूर्य ग्रहण के कारण बदली तिथियां , जानिए कब मनाई जाएगी धनतेरस एवं दीपावली

दीपावली :: दीपावली के त्यौहार को लेकर संपूर्ण भारत में एक अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। दीपावली का पर्व लोग धूमधाम से मनाते हैं लेकिन इस बार की दीपावली सूर्य ग्रहण के कारण कुछ इस तरह मनाई जाएगी। इस साल दीपोत्सव 22 अक्टूबर से शुरू होने जा रहा है। हालांकि कुछ ज्योतिषाचार्यों का मत है कि दीवाली का पावन त्योहार 23 अक्टूबर से शुरू होगा। दिवाली पर्व की शुरुआती तारीख में मतभेद होने के कारण लोगों के बीच छोटी दिवाली और बड़ी दिवाली की तारीख को लेकर कंफ्यूजन है।

आखिर कब है धनतेरस

धनतेरस के बारे में पंडित प्रकाश तिवारी शास्त्री द्वारा बताया गया है कि धनतेरस का पर्व 22 अक्टूबर दिन शनिवार को मनाया जाएगा। पंडित जी द्वारा धनतेरस के बारे में बताया गया कि धनतेरस का शुभ समय शनिवार को दोपहर 2:24 मि. से शुरू होकर अगले दिन रविवार तक रहेगा। हालांकि ज्योतिषाचार्यों के अनुसार 22 अक्टूबर दिन शनिवार को धनतरेस का पर्व मनाना उत्तम रहेगा।

Also Read IIT Kanpur में आयोजित हुई पुष्प प्रदर्शनी

कब है छोटी दीपावली  

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि 23 अक्टूबर को शाम 06 बजकर 04 मिनट से शुरू होकर 24 अक्टूबर की शाम 05 बजकर 28 मिनट तक रहेगी। छोटी दिवाली या नरक चतुर्दशी 23 अक्टूबर को मनाई जाएगी। उदया तिथि के अनुसार, छोटी दिवाली 24 अक्टूबर को भी मनाई जा सकती है।

प्रदोष काल से पहले अमावस्या तिथि समाप्त-

24 अक्टूबर की शाम 05 बजकर 28 मिनट से अमावस्या तिथि लग रही है। जो कि 25 अक्टूबर को शाम 04 बजकर 19 मिनट तक रहेगी। 25 अक्टूबर की शाम प्रदोष काल लगने से पहले ही अमावस्या तिथि समाप्त हो रही है। ऐसे में बड़ी दिवाली 24 अक्टूबर को मनाना उत्तम रहेगा। तो वही 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण का सूतक लगने के कारण भी दीपावली को 24 अक्टूबर को मनाया जा रहा है। तो वही 27 साल बाद दीपावली पर सूर्य ग्रहण पड़ रहा है।

  • पंडित प्रकाश तिवारी शास्त्री

 

 

Related Posts

Follow Us