जानिए, अखिलेश और डिंपल यादव ने ब्राह्मणों के साथ मिलकर क्या किया

जानिए, अखिलेश और डिंपल यादव ने ब्राह्मणों के साथ मिलकर क्या किया

अपने पिता के आत्मा की शांति के लिए अखिलेश और डिंपल यादव ने पैतृक गांव सैफई में शुक्रवार को हवन और शांति पाठ ब्राह्मणो के मंत्रो उच्चारण के साथ संपन्न कराया। इसके उपरांत दोनों ने मिलकर गौ दान और सभी को भोजन कराया। 

 

यह कार्यक्रम मुलायम सिंह यादव की मृत्यु के 11वें दिन बाद संपन्न हुआ है। सपा संरक्षक की मृत्यु के 11वें दिन हवन और शांति पाठ अयोध्या, हरिद्वार और वृंदावन से आए पंडितों और संतों ने कराया। यह कार्यक्रम मृत्यु की बाद होने वाली रस्मों के तहत कराया गया। इस दौरान सपा प्रमुख अखिलेश यादव, बहू डिंपल यादव समेत परिवार के अन्य सदस्य मौजूद थे। रस्म प्रक्रिया पूरी होने के बाद 13 ब्राह्मणों को भोजन कराया गया और उन्हें दक्षिणा दी गई। गऊ दान भी करवाया गया। सपा संरक्षक नेता जी का 10 अक्टूबर को निधन हो गया था और अगले दिन सैफई में राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया था।


नेता जी के हवन को हवन के लिए आवास में बने पार्क में वाटरप्रूफ टेंट लगाया गया था। सुबह नौ बजे अयोध्या से आए रसिक पीठाधीश्वर महंत जन्मेजय शरण सहित पांच पुरोहितों ने पूजन शुरू कराया। अखिलेश यादव ने पत्नी डिंपल यादव के साथ नेताजी की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। लगभग चार घंटे तक चले हवन में सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव, प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव, प्रतीक यादव, पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव, पूर्व सांसद अक्षय यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अभिषेक यादव मौजूद रहे। हवन के बाद अखिलेश और डिंपल ने ब्राह्मणों को भोज कराया।

Recent News

Follow Us