पीएम मोदी ने 2023 तक 10 लाख युवाओं को रोजगार देने का किया वादा

पीएम मोदी ने 2023 तक 10 लाख युवाओं को रोजगार देने का किया वादा

पीएम मोदी ने देश में 2024 चुनाव में पकड़ बनाने  लिए 10 लाख युवाओं को 2023 तक रोजगार देने का वादा किया है। धनतेरस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के 75 हजार युवाओं को रोजगार का तोहफा दिया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री ने इन युवाओं को नियुक्ति पत्र सौंपा। इसके साथ ही पीएम ने वर्चुअली रोजगार मेले की लॉन्चिंग भी की। इसके जरिए अगले 14 महीने में यानी दिसंबर 2023 तक केंद्र सरकार के 38 विभागों में दस लाख रिक्तियों को भरा जाएगा।  

 
पीएम मोदी ने आज दिनांक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सेंट्रल फोर्स, सब इंस्पेक्टर, कॉन्सटेबल, लोवर डिवीजन क्लर्क, स्टेनो, पर्सनल असिस्टेंट, इनकम टैक्स इंस्पेक्टर और मल्टी टास्किंग स्टाफ में नियुक्ति पत्र दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग स्किल योग्यता रखते हैं उनके लिए रोजगार मेला के तहत रोजगार दिया जायेगा। वो जो स्किल के अलावा है उनको केंद्र सरकार के अधीन आने वाले सभी विभागों के खाली पड़े पदों में भरा जाएगा। 10 लाख युवाओं को इसके जरिए रोजगार दिया जाएगा। 

 
पीएम मोदी ने पीएम चुनाव से पहले 14 महीने में सभी विभागों में भर्तियों की लिस्ट को जारी किया है। पीएम मोदी ने रेलवे में 2,93,943, डिफेंस में 2,64,706, गृह मंत्रालय में 1,43,536, डाक में 90,050, रवेन्यू में 80,243, इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट में 25,934, खनन में 7,063, एटॉमिक एनर्जी में 9,460, वॉटर रिसोर्स, रिवर डेवलपमेंट एंड गंगा में 6,860, कल्चर में 3,788, अर्थ साइंस में 3,043, हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स में 2,751, पर्सनल, पब्लिक, ग्रीवांसेज एंड पेंशन में 2,535, लेबर एंड इम्प्लॉयमेंट में 2,408, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन में 2,302, स्टेटिक्स एंड प्रोग्राम इंप्लीमेंटेशन में 2,156, स्पेस में 2,106, इंफॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग में 2,041, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में 1,769, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में 1,568 पोर्ट, शिपिंग एंड वॉटरवेज में 1,043, अन्य में 30,022 को कुल मिलकर 9,79,327 वैकेंसी देने का वादा किया है। दूसरे रूप में ग्रेड ए में 23,584 वैकेंसी, ग्रेड बी में 26,282 वैकेंसी, ग्रेड सी (गजटेड) में    92,525 वैकेंसी और ग्रेड सी (नॉन गजेट) में 8,36,936 वैकेंसी अंतर्गत आती हैं। इन भर्तियों को यूपीएससी, एसएससी और आरआरबी के माध्यम से कराई जाएंगी। कई मंत्रालय और विभाग अपनी खुद की भर्तियां भी करेंगे।

Recent News

Related Posts

Follow Us