पति ने पत्नी को उसके प्यार से मिलवाया , रोते हुए कहा 'तुम जाओ' मैं चारों बच्चों को संभाल लूंगा

पति ने पत्नी को उसके प्यार से मिलवाया , रोते हुए कहा 'तुम जाओ' मैं चारों बच्चों को संभाल लूंगा

बिहार :: आपने गाना सुना होगा कि बचपन का प्यार भूल नहीं जाना रे , ऐसी ही एक घटना आज सामने आई बिहार से जहां पर पति ने अनोखी प्यार की मिसाल पेश की है। घटना है बिहार के भागलपुर जिले के सुल्तानगंज की जहां पर एक पति ने अपनी पत्नी की उसके प्रेमी के साथ शादी करवा दी। भागलपुर जिले के सुल्तानगंज के गनगनिया गांव में श्रवण नाम के युवक की शादी 10 साल पहले बांका जिले की निवासी पूजा से हुई थी। इन दोनों की शादी 2012 में हुई थी। दोनों के चार बच्चे हैं‌। वहीं, अक्सर मायके आने-जाने वाली पूजा का दिल पड़ोस के छोटू के लिए धड़कने लगा।

 वहीं, छोटू के प्यार में पड़ी पूजा ने करवाचौथ से एक दिन पहले यानी कि 12 अक्टूबर को पति श्रवण से सच्चाई बताई। साथ में यह भी कहा कि वह छोटू से बेइंतहा प्यार करती है।

Also Read सावधान सोशल मीडिया पर विष फैला रही “डिजिटल विष कन्याओं” से रहे सतर्क

अक्सर देखा होगा कि पति पत्नी के बीच तीसरा आने के बाद बहस शुरू हो जाती है लेकिन पति ने एक अनोखी मिसाल पेश की श्रवण ने बीवी की बात सुनकर कोई नाराजगी जाहिर ना करते हुए। पत्नी के प्यार की कद्र की और सरपंच-मुखिया के संग पंचायत बुलाई और सबके सामने बीवी का हाथ उसके प्रेमी के हाथों में सौंप दिया।

पति के त्याग की अनोखी दास्तान का जिस तरीके से खात्मा हुआ, वह सबको हैरान कर रहा है। पति श्रवण ने बीवी को भेजते हुए कहा कि जाओ तुम खुश रहो। मैं चारों बच्चों की देखभाल कर लूंगा। आपको जानकर हैरानी होगी कि चारों बच्चों की उम्र 2 से 8 साल के बीच ही है। जानकारी के अनुसार, पूजा अक्सर मायके जाती थी। यहां अपने ननिहाल में रह रहे छोटू के लिए उसके दिल में प्यार जाग गया।

वही पूजा की माने तो वह छोटू से बचपन की उम्र से ही प्यार करती है। और वह शादी होने के बाद भी अपना बचपन का प्यार नहीं भूली। पूजा का कहना है कि वह 16 साल की उम्र से ही छोटू से प्यार करती थी। वहीं, उसकी शादी दूसरी जगह कर दी गई‌‌। सच्चा प्यार तो उसे अब मिला है। अब वह अपना घर बसाएगी। श्रवण के इस प्यार की चर्चा पूरे सोशल मीडिया में खूब फैल रही है। लोग उसकी सोच को सलाम कर रहे हैं।

Recent News

Related Posts

Follow Us