धूमधाम से मनायी जायेगी गोपाष्टमी, गौशाला में सजेगा दंगल

धूमधाम से मनायी जायेगी गोपाष्टमी, गौशाला में सजेगा दंगल

कानपुर। देशी गायों के संरक्षण और संवर्धन के संकल्प के साथ हर साल की भांति इस साल भी कानपुर गौशाला सोसाइटी द्वारा 1 नवंबर को धूमधाम से गोपाष्टमी महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। यह महोत्सव मंगलवार को एक्सप्रेस रोड स्थित अन्नपूर्णा भोजनालय में आयोजित किया जायेगा। 

जानिए क्यों मनाई जाती है गोपाष्टमी
किवंदितियों के अनुसार एक बार भगवान ने जब छठे वर्ष की आयु में प्रवेश किया तब एक दिन भगवान माता यशोदा से बोले- मैय्या अब हम बड़े हो गए हैं।
मैय्या यशोदा बोली- अच्छा लल्ला अब तुम बड़े हो गए हो तो बताओ अब क्या करें
भगवान ने कहा- अब हम बछड़े चराने नहीं जाएंगे, अब हम गाय चराएंगे
मैय्या ने कहा- ठीक है बाबा से पूछ लेना। मैय्या के इतना कहते ही झट से भगवान नंद बाबा से पूछने पहुंच गए।
बाबा ने कहा- लाला अभी तुम बहुत छोटे हो अभी तुम बछड़े ही चराओ
भगवान ने कहा- बाबा अब मैं बछड़े नहीं गाय ही चराऊंगा
जब भगवान नहीं माने तब बाबा बोले- ठीक है लाल तुम पंडित जी को बुला लाओ- वह गौ चारण का मुहूर्त देख कर बता देंगे।

बाबा की बात सुनकर भगवान झट से पंडित जी के पास पहुंचे और बोले- पंडित जी, आपको बाबा ने बुलाया है, गौ चारण का मुहूर्त देखना है, आप आज ही का मुहूर्त बता देना मैं आपको बहुत सारा माखन दूंगा...

पंडित जी नंद बाबा के पास पहुंचे और बार-बार पंचांग देख कर गणना करने लगे तब नंद बाबा ने पूछा, पंडित जी क्या बात है ? आप बार-बार क्या गिन रहे हैं? पंडित जी बोले, क्या बताएं नंदबाबा जी केवल आज का ही मुहूर्त निकल रहा है, इसके बाद तो एक वर्ष तक कोई मुहूर्त नहीं है... पंडित जी की बात सुन कर नंदबाबा ने भगवान को गौ चारण की स्वीकृति दे दी। उसी दिन भगवान ने गौ चारण आरंभ किया और वह शुभ तिथि थी कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष अष्टमी, भगवान के गौ-चारण आरंभ करने के कारण यह तिथि गोपाष्टमी कहलाई।

पूर्व महामंत्री के निधन के कारण नहीं निकाली जायेगी शोभायात्रा
प्रेसवार्ता के दौरान सुरेश गुप्ता ने बताया कि सोसाइटी के पूर्व महामंत्री जगमोहन की मृत्यु होने के कारण इस बार गायों की शोभायात्रा नहीं निकाली जायेगी, बाकी अन्य आयोजन पूर्व की भांति आयोजित किये जायेंगे। 

कार्यक्रम की जानकारी देते हुए संस्था के उपाध्यक्ष/संयोजक सुरेश गुप्ता ने बताया कि उक्त कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर में सांसद सत्यदेव पचौरी तथा विषिष्ठ अतिथि के रूप में विधायक अमिताभ बाजपेई व सुरेन्द्र मैथानी उपस्थित होगें। इस दौरान गौवंश के संवर्धन एवं संरक्षण पर चर्चा का आयोजन किया गया ह।ै जिसमें गौभक्त अपने विचार रख सकेगें एवं संस्था द्वारा किए जा रहे अविष्कारों की जानकारी दी जाएगी जिससे कि गौवंश एवं गौशालाएं स्वावलम्बी हो सके।

गौसेवा के लिए शुरू किया किया दान पैकेज
संस्था के महामंत्री पुरूषोत्तमलाल तोषनीवाल ने बताया उक्त कार्यक्रम में कानपुर गौशाला सोसाइटी ने गौग्रास दान हेतु मासिक 5100रु अथवा वार्षिक 51000/- की नई योजना लांच की है। जिसकी शुरूआत 1 नवम्बर 2022 गोपाष्टमी पर्व से प्रारम्भ की जाएगी।

संस्था के कोषाध्यक्ष सुबोध अग्रवाल ने बताया कि गोपाष्टमी महोत्सव के पश्चात कानपुर गौशाला सोसाइटी की सभी ब्रान्चों में देशी (गिरि, थारपाकर, गंगातीरी, हरियाणवी) जैसी नश्ल की गायों को लाकर दुधारू गौवंश के संवर्धन का कार्य किया जाएगा जिससे शुद्व गुणवत्ता युक्त दुग्ध की उपलब्धता नगरवासी गौभक्तों को हो सके।

प्रेसवार्ता में पुरूषोत्तमलाल तोषनीवाल महामंत्री, सुरेश गुप्ता संयोजक, काशी प्रसाद शर्मा, अवधेश बाजपेई, सुशील तुलश्यान उपाध्यक्षगण, विष्वनाथ कनौडिया, श्री कृष्ण गुप्त ‘‘बब्बू’’ मंत्रीगण, सुबोध अग्रवाल कोषाध्यक्ष मौजूद रहे। 

Related Posts

Follow Us