शादीशुदा प्रेमी ने सुपारी देकर करवाई प्रेमिका की हत्या , प्रेमिका की सांसे थमने तक.....

शादीशुदा प्रेमी ने सुपारी देकर करवाई प्रेमिका की हत्या , प्रेमिका की सांसे थमने तक.....

कानपुर :: उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर के बिधनू थाना क्षेत्र के अंतर्गत 3 दिन पहले एक महिला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। खून से लथपथ महिला की लाश झाड़ियों में पड़ी मिली थी। कहते हैं कि कानून के हाथ लंबे होते हैं आरोपी चाहे जितना चाहते हो कानून के हाथ उस तक आराम से पहुंच जाते हैं। ऐसा ही हुआ सोमवार को पुलिस ने घटना का खुलासा किया तो सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। पुलिस के मुताबिक, महिला का शादीशुदा युवक से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। वो प्रेमी से शादी करने और घर बसाने की जिद कर रही थी। प्रेमिका की दिल से परेशान होकर शादीशुदा प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की हत्या की साजिश रच डाली। प्रेमी में प्रेमिका की हत्या करवाने के लिए दोस्तों को 70 हजार रुपए की सुपारी दे दी। इसके बाद षड्यंत्र रच प्रियंका को नए घर दिखाने का बहाना बनाकर अपने साथ ले गया। इसके बाद उसके दोस्तों ने उसे गोली मार दी। इसके बाद सभी मौके से फरार हो गए। पुलिस घटना का खुलासा कर प्रेमी समेत 2 आरोपियों को जेल भेज दिया है। अन्य 3 की तलाश कर रही है।

सपना के संबंध में जानकारी देते हुए एडीसीपी साउथ अंकिता शर्मा ने बताया कि बीते 2 दिसंबर को बिधनू में झाड़ियों के किनारे एक महिला का शव मिला था। जिसकी गोली मारकर हत्या की गई थी। शनिवार को महिला की पहचान बर्रा आठ की सुशीला (40) के रूप में हुई। वो गुरुवार रात से लापता थी। प्रधान जनार्दन सिंह की तहरीर पर हत्या की एफआईआर दर्ज की गई।

जांच में पता चला कि सुशीला क्षेत्र में कबाड़ का काम करती थी। उसका प्रेम केसरवानी नाम के शख्स से प्रेम प्रसंग था। प्रेम केसरवानी पहले से शादीशुदा था। प्रेमी का आरोप है कि सुशीला मुझ पर शादी का दबाव बना रही थी। इसके साथ ही प्रॉपर्टी में हिस्सेदारी मांग रही थी। इस लिए सुशीला को रास्ते से हटाने का प्लान तैयार किया था। महिला के प्रेमी ने राजेश नाम के शख्स को हत्या के लिए 70 हजार रुपए की सुपारी दी थी। प्रेमिका की हत्या से एक दिन पहले प्रेमी ने योजना तैयार कर ली थी। 1 दिसंबर को प्रेम केसरवानी ने प्लॉट दिखाने के बहाने रात में बुलाया था। प्रेम स्कूटी पर बैठाकर सुशीला को बिधनू थाना क्षेत्र के जामू गांव नहर पुल के पास ले गया। जहां पर राजेश गौतम अपने साथियों के साथ पहले से मौजूद था।

प्रेमी प्रेम केसरवानी ने सुशीला को हत्यारों के हवाले कर दिया। सुशीला जब घटना स्थल पर पहुंची तो, उसे एहसास हो गया था कि उसकी हत्या की तैयारी है। सुशीला प्रेमी के सामने मिन्नतें करती रही, लेकिन उसकी किसी ने नहीं सुनी। राजेश के एक साथी ने सुशीला के चेहरे पर मफलर डाल दिया। इसके बाद राजेश ने गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं प्रेम कुछ देर वहां रुककर करीब 15 मिनट तक देखता रहा कि सुशीला की सांसे चल रही हैं या नहीं। जब प्रेम को कंफर्म हो गया कि सुशीला की मौत हो गई। इसके बाद वह मौके से स्कूटी लेकर फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक, हत्या में प्रेम और राजेश के अलावा शनि, दिनेश और अजय भी शामिल थे। दो आरोपी पकड़ लिए गए हैं। तीन अभी फरार हैं, उनकी तलाश की जा रही है।

Related Posts

Follow Us