सामने आया पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) का खौफनाक सच, हिंदुओं की हत्या के लिए बनाई थी किलर स्क्वॉड

सामने आया पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) का खौफनाक सच, हिंदुओं की हत्या के लिए बनाई थी किलर स्क्वॉड

बेंगलुरु। इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के 20 सदस्यों के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा कोर्ट में दायर की गई चार्जशीट से इस संस्था के खतरनाक मंसूबों का पर्दाफाश हुआ है। NIA ने अपनी एक जांच में खुलासा करते हुए दावा किया है कि पीएफआई का एजेंडा आतंक, सांप्रदायिक नफरत और समाज में अशांति पैदा करना था। जांच में सामने आया कि प्रतिबंधित संगठन का एजेंडा 2047 तक भारत में इस्लामिक शासन स्थापित करना था। इसके लिए PFI ने हिंदुओं को टारगेट कर मारने के लिए कई टीमों की गठन किया था, जिसे 'सर्विस टीम' या 'किलर स्क्वॉड' कहा जाता है। 

प्रवीण नेतारू हत्याकांड की जांच के दौरान हुए खुलासे

गौरतलब है कि कर्नाटक में 26 जुलाई 2022 को भाजपा के यूथ विंग के कार्यकर्ता प्रवीण नेतारू की हत्या मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा कर दी गई थी। इस हत्याकांड की जांच कर रही NIA की टीम ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के 20 मेंबर्स के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है।

जांच के दौरान NIA के सामने और भी चौकाने वाले तथ्य सामने आये है। NIA के अनुसार, कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले के बेल्लारे गांव में समाज में आतंक फैलाने और लोगों में डर पैदा करने के इरादे से यह हत्या की गई थी। इससे पहले NIA ने PFI के दो सदस्यों-कोडजे मोहम्मद शेरिफ (53) और मसूद केए (40) के खिलाफ 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। दोनों कर्नाटक के कन्नड़ जिले के निवासी हैं। एनआईए का कहना है कि उसने युवाओं को कश्मीर और खुरासान, अफगानिस्तान में आतंकवादी प्रशिक्षण लेने के लिए भेजने की साजिश से संबंधित एक मामले में अल-कायदा से जुड़े दो आरोपी व्यक्तियों के खिलाफ भी चार्जशीट दायर की है।

इन लोगों के खिलाफ दायर हुई चार्जशीट

चार्जशीट में महद शियाब, ए बशीर, रियाज, एम पैचार, मसूद केए, कोडाजे मोहम्मद शेरिफ, अबुबकर सिद्दीक, नौफल एम, इस्माइल के, के इकबाल, शहीद एम, महद शफीक जी, उमर फारूक एम आर, अब्दुल कबीर सीए, मुहम्मद आई शा, सैनुल आबिद वाई, शेख हुसैन, जकियार ए, एन अब्दुल हारिस, थुफैल एमएच का नाम है।

NIA के अनुसार पीएफआई के सदस्यों और नेताओं द्वारा बेंगलुरु शहर, सुलिया टाउन और बेल्लारे गांव में पूरी घटना की साजिश रची थी। प्रवीण की हत्या के द्वारा वे धर्म विशेष के बीच आतंक का माहौल बनाना चाहते थे। .

Recent News

Related Posts

Follow Us