पुलिस तंत्र में अराजकता फैली : अखिलेश यादव

पुलिस तंत्र में अराजकता फैली : अखिलेश यादव

लखनऊ :- सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस तंत्र में अराजकता फैली है। और सचिवालय भ्रष्टाचार का केंद्र बन गया है हालात मुख्यमंत्री के नियंत्रण में नहीं हैं। किसान और छोटे कारीगर परेशान हैं, कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं, भाजपा से हालात संभल नहीं रहे इसलिए

लखनऊ :- सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस तंत्र में अराजकता फैली है। और सचिवालय भ्रष्टाचार का केंद्र बन गया है हालात मुख्यमंत्री के नियंत्रण में नहीं हैं। किसान और छोटे कारीगर परेशान हैं, कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं, भाजपा से हालात संभल नहीं रहे इसलिए मुख्यमंत्री को अपनी कुर्सी छोड़ प्रस्थान कर जाना चाहिए।

भाजपा राज में मंडियों एवं दलहन केंद्रों पर भ्रष्टाचार व्याप्त है कई केंद्रों में ताले लगे हैं आखिर किसान अपनी फसल बेचने कहां जाएं ।भाजपा के जंगलराज में पुलिस थाने पिटाई का अड्डा बन गए हैं प्रदेश में थाने कौन चला रहा है सबसे बड़ा सवाल तो यही है।महिला सशक्तिकरण पर सिर्फ भाषण बाजी करने वाले मुख्यमंत्री वूमेन पावर लाइन 181 तक नहीं चला सके

यादव ने आरोप लगाया कि 69000 शिक्षक भर्ती का मास्टरमाइंड भाजपा से जुड़ा बताया जाता है। अनामिका और प्रियंका जैसी बहुत से फर्जी शिक्षिकाएं भर्ती हैं। ‌ बिना ऊपरी सांठगांठ से ऐसा घोटाला संभव नहीं है।

Also Read  कांग्रेस में जाने की अफवाहों के बीच आया विधायक अमिताभ का बयान, कहा सपा में हूँ, था और रहूँगा

सचिवालय के अंदर अफसर नौकरियां और बड़े ठेके दिलाने के नाम पर लोगों को ठगने का धंधा चला रहे हैं और भाजपा मंत्रियों के स्टाफ के लोग भी इस खेल में शामिल हैं। भाजपा सरकार अपने सत्ता गंवाने के अंदेशे से मानसिक संतुलन खो बैठी है और जाते-जाते भ्रष्टाचार से अपनी थैलियां भर लेना चाहती है।

  • रिपोर्ट :- रामानंद श्रीधर

Related Posts

Follow Us