शिवपाल यादव का बड़ा बयान, कहा- गैर भाजपा सरकार को किसी का भी साथ मंजूर  

शिवपाल यादव का बड़ा बयान, कहा- गैर भाजपा सरकार को किसी का भी साथ मंजूर  

आजमगढ़(उत्तर प्रदेश):- प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने मंगलवार को भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में कारोना फैला। यहीं नहीं उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार गलत नीतियों की वजह से ही मजदूरों और महिलाओं को हजारों किमी पैदल यात्रा करनी

आजमगढ़(उत्तर प्रदेश):- प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने मंगलवार को भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में कारोना फैला। यहीं नहीं उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार गलत नीतियों की वजह से ही मजदूरों और महिलाओं को हजारों किमी पैदल यात्रा करनी पड़ी। कहा कि गैर भाजपा सरकार के लिए किसी के भी साथ गठबंधन करने करने को तैयार हैं। 

आजमगढ़ में पार्टी के वरिष्ठ नेता अभिषेक सिंह अंशू के आवास पर रात आठ बजे मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 2022 में हमारा नारा है गैर भाजपावाद। यह नारा हमने इसलिए दिया है कि इस समय देश-प्रदेश की हालत ठीक नहीं है। समाज का प्रत्येक तबका इस सरकार से दुखी है। पीएम ने नारा दिया था अच्छे दिन आएंगे, लेकिन सात साल में अच्छे दिन कहीं दिख नहीं रहे हैं।

भाजपा सरकार ने दूसरा नारा दिया था सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास। अगर नारे को मूर्तरूप देना था तो सरकार को सबका साथ देना चाहिए था लेकिन किसान हो, नौजवान हो या फिर व्यापारी सभी दुखी हैं। देश में रोजगार पूरी तरह खत्म हो चुका है। विकास कहीं हो नहीं रहा है और अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। यहां तक कि मानइस में चली गई है।


शिवपाल यादव ने कहा कि जीएसटी लगाते समय सरकार ने कहा कि देश में एक कर लगेगा लेकिन न जाने कितने कर लगा दिए। इसी बीच, देश में वैश्विक बीमारी कोरोना फैल गई। जब पूरे देश में सिर्फ 400 मरीज थे तो सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया।


शिवपाल यादव ने कहा कि जीएसटी लगाते समय सरकार ने कहा कि देश में एक कर लगेगा लेकिन न जाने कितने कर लगा दिए। इसी बीच, देश में वैश्विक बीमारी कोरोना फैल गई। जब पूरे देश में सिर्फ 400 मरीज थे तो सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया।
 


पीएम ने थाली बजवाई तो लोगों ने थाली बजाई, मोमबत्ती जलाने को कहा तो मोमबत्ती जला दी लेकिन कोरोना नहीं गया। बल्कि सरकार के गलत निर्णय के कारण  फैक्ट्रियां बंद हो गईं, रेल बंद कर दी गई। उसकी वजह से इस महामारी के बीच मजदूरों को हजारों किमी पैदल चलन पड़ा और यह बीमारी पूरे देश में फैल गई। 


उन्होंने कहा कि सरकार को इंतजाम करना चाहिए था कि मजदूर को उनके घर पहुंचाया जाए। उन्हें रोजगार दिया जाय लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया। इस दौरान कई घटनाएं हुई लेकिन सरकार मौन रही। ऐसी सरकार को सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है। सरकार की गलत नतियों के खिलाफ प्रसपा गांव-गांव, पांव-पांव अभियान चला रही है। गैर भाजपा सरकार बनाने के लिए हम किसी के साथ जाने के लिए तैयार हैं।

Also Read चुनावी गठबंधन को लेकर मायावती ने किया बड़ा एलान

रिपोर्ट : शैलेन्द्र शर्मा

Related Posts

Follow Us