'भाजपाईयों को दवाई' देने वाले सपाई पर हुई पुलिसिया कार्यवाही, पार्टी से भी हुए निष्कासित

'भाजपाईयों को दवाई' देने वाले सपाई पर हुई पुलिसिया कार्यवाही, पार्टी से भी हुए निष्कासित

'भाजपाईयों को दवाई' देने वाले सपाई पर हुई पुलिसिया कार्यवाही, पार्टी से भी हुए निष्कासित


कानपुर, 29 दिसम्बर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शहर आगमन पर माहौल बिगाड़ने की साजिस सपा से जुड़े लोगों ने की थी। पुलिस की प्रेस नोट में न सिर्फ इसका जिक्र है बल्कि पांच आरोपियों को कार समेत दबोच लिया गया है पुलिस के अनुसार भाजपाईयों को भड़का कर ये लोग बड़ा फसाद कराने की फिराक में थे। 

बता दे की मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मेट्रों का उद्घाटन करने आये थे। निराला नगर मैदान में उनकी सभा भी थी। सभा के पश्चात ही मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड, सपा छात्र सभा से जुड़े  शुकांत शर्मा, सचिन केसरवानी, अभिषक रावत, निकेश और अंकुर ने गल्ला मंडी के पास सीएम का पुतला फूका था, ठीक उसी समय भाजपा का झंडा लगी एक कार रूकती है जिसमें से दो युवक उतरते ही उसके बाद सपा कार्यकर्ता कार पर पथराव कर देते है इसका वीडियो खुद वायरल कर कैप्शन में लिखा की भाजपायों को दवाई दी गयी। 


इसका वीडियो पुलिस अफसरों के हाथ लगा तो पुलिस आयुक्त असीम अरूण ने कार्यवाही के निर्देश दिये। देर रात ही कार मालिक अंकुर को दबोच लिया जिसके बाद सारी परते खुल गयी। पुलिस ने बुधवार को पांचों आरोपियों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा। इस बाबत अपर पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था आन्नद प्रकाश ने बताया कि जांच में सामने आया है कि सपा से जुड़े पांचों आरोपी प्रधानमंत्री की सभा के दौरान फसाद कराने की मंशा थी। दरअसल आरोपियों का मकसद था कि कार पर पथराव करने से वहां से निकल रहे भाजपाई अगर विरोध करते तो फसाद हो जाता है।

रिपोर्ट : शाहिद पठान

Related Posts

Follow Us