गलवान के वीर कर्नल संतोष बाबू को महावीर चक्र और पांच को वीर चक्र

गलवान के वीर कर्नल संतोष बाबू को महावीर चक्र और पांच को वीर चक्र

नयी दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के साथ झड़प के दौरान मातृभूमि की रक्षा करने वाले कर्नल संतोष बाबू को मरणोपरांत महावीर चक्र तथा उनके साथ चीनी सैनिकों को मुंह तोड़ जवाब देने वाले पांच अन्य जांबाजों को वीर चक्र से सम्मानित करने की घोषणा की गयी है। इनमें से

नयी दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के साथ झड़प के दौरान मातृभूमि की रक्षा करने वाले कर्नल संतोष बाबू को मरणोपरांत महावीर चक्र तथा उनके साथ चीनी सैनिकों को मुंह तोड़ जवाब देने वाले पांच अन्य जांबाजों को वीर चक्र से सम्मानित करने की घोषणा की गयी है। इनमें से चार को यह सम्मान मरणोपरांत दिया जायेगा।

इसके अलावा विभिन्न सैन्य अभियानों में बहादुरी तथा रण कौशल का परिचय देने वाले एक जांबाज को कीर्ति चक्र (मरणोपरांत) तथा तीन अन्य को शौर्य चक्र से सम्मानित किया जायेगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर इन वीरता चक्रों सहित कुल 455 वीरता पुरस्कारों को सोमवार को मंजूरी दी।

ये भी पढ़ें- भारत और चीन के सैनिकों के बीच मामूली झड़प

कर्नल बाबू के साथ गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हुए नायब सूबेदार एन सोरेन, हवलदार के पलानी, नायक दीपक सिंह और सिपाही गुरतेज सिंह को मरणोपरांत तथा हवलदार तेजिंदर सिंह को वीर चक्र से सम्मानित किया जायेगा।

सुबेदार संजीव कुमार को केरन सेक्टर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ के दौरान सर्वोच्च बलिदान के लिए मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया जायेगा।

इसके अलावा मेजर अनुज सूद को जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद होने पर मरणोपरांत शौर्य चक्र प्रदान करने का निर्णय लिया गया है। राइफलमैन प्रणव ज्योति दास को पूर्वोत्तर में उग्रवादियों को मार गिराने और सफल अभियान के लिए शौर्य चक्र तथा पैराट्रूपर सोनम तमांग को जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों से लौहा लेने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित करने का निर्णय लिया गया है।

ये भी पढ़ें- सैनिकों के पेंशन में भारी कमी किए जाने के विरोध के बीच रक्षा मंत्रालय ने जारी किया बयान

25 जनवरी को घोषित कुल 455 वीरता अलंकरणों में एक महावीर चक्र, पांच कीर्ति चक्र, पांच वीर चक्र, सात शौर्य चक्र और 130 सेना पदक भी शामिल हैं।

इ्न्पुट- यूनीवार्ता

Follow Us