राहुल गाँधी ने दोहराई अमित शाह के इस्तीफे की मांग

राहुल गाँधी ने दोहराई अमित शाह के इस्तीफे की मांग

नयी दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि फोन टैपिंग करना एक हथियार है और मोदी सरकार ने इस हथियार का इस्तेमाल विपक्ष तथा संसदीय संस्थानों के खिलाफ किया है और यह काम गृहमंत्री अमित शाह के बिना नही हो सकता इसलिए उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। राहुल गांधी ने शुक्रवार को

नयी दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि फोन टैपिंग करना एक हथियार है और मोदी सरकार ने इस हथियार का इस्तेमाल विपक्ष तथा संसदीय संस्थानों के खिलाफ किया है और यह काम गृहमंत्री अमित शाह के बिना नही हो सकता इसलिए उन्हें इस्तीफा देना चाहिए।

राहुल गांधी ने शुक्रवार को यहां संसद भवन के बाहर संवादाताओं से कहा कि उनका फोन भी टैप हुआ है। इसी तरह से कई अन्य लोगो के फोन टैप हुए हैं और इस मामले की न्यायिक जांच करना ज़रूरी है।

गरमाया फ़ोन टेपिंग का मुद्दा

उन्होंने कहा कि फोन टेपिंग का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की संस्तुति के बिना संभव नहीं है इसलिए इस मामले में सबसे पहले गृह मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए और उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश की देखरेख में मामले में प्रधानमंत्री की भूमिका की भी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

Also Read आरपीएफ ने जनवरी 2024 में ऑपरेशन 'नन्हे फ़रिश्ते' के अंतर्गत 549 से अधिक बच्चों को फिर से परिवार से मिलाया

कांग्रेस नेता ने कहा कि इजरायल में इस तरह के काम को हथियार कहा जाता है और मोदी सरकार ने इस हथियार का इस्तेमाल संवैधानिक संस्थाओं, विपक्ष के नेताओं तथा सुरक्षा से जुड़े प्रमुख लोगों के खिलाफ किया है इसलिए इसकी जांच जरूरी है।

Related Posts

Follow Us