‘चीनी वायरस’ की जांच करने भारत पह़़ुंची 6.5 लाख चीनी किट

‘चीनी वायरस’ की जांच करने भारत पह़़ुंची 6.5 लाख चीनी किट

पहले चीन ने पूरी दुनिया को कोरोना जैसा घातक वायरस दिया। अब कोरोना से लड़ने का घटिया सामान बेच रहा है। चीन ने पहले यूरोप को घटिया मास्क और बेकार टेस्टिंग किट बेच कर उनको चूना लगाया

पहले चीन ने पूरी दुनिया को कोरोना जैसा घातक वायरस दिया। अब कोरोना से लड़ने का घटिया सामान बेच रहा है। चीन ने पहले यूरोप को घटिया मास्क और बेकार टेस्टिंग किट बेच कर उनको चूना लगाया। अब भारत को भी चूना लगाना शुरू कर दिया है। चीन ने भारत में डाॅक्टरों की पीपीई किट बेची थी जो भारतीय लैब में जांच के दौरान ‘कबाड़’ साबित हुई। अब चीन भारत को कोरोना मरीजो ंकी टेस्टिंग के लिए 6.5 लाख टेस्टिंग किट बेच रहा है। यह किटें आज शाम तक विशेष कार्गो विमान से भारत आ जायेंगी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भारत आ रही टेस्टिंग किट किसी प्रकार की चीनी सहायता नहीं है। बल्कि इसे भारत सरकार चीन की कंपनियों से खरीद रही है। इससे पहले चीन को भारत को 170000 पीपीई किट डोनेट की थी। इन किटों की भारत ने डीआरडीओ की लैब में जांच करवाई थी, जांच के दौरान करीब 90000 किटे इस्तेमाल करने लायक नहीं पायी गई।

Recent News

Related Posts

Follow Us