‘अंगूरी भाभी’ के पास है 500 ईयररिंग्स का अनूठा कलेक्शन

‘अंगूरी भाभी’ के पास है 500  ईयररिंग्स का अनूठा कलेक्शन

हर किसी के पास किसी खास चीज को लेकर जुनून होता है या फिर खास चीजों को लेकर उनका प्यार होता है। कुछ को तरह-ंउचयतरह के जूते इकट्ठे करने का शौक होता है तो किसी को होर्ड फ्रिज मैग्नेट का और कुछ को सिक्के इकट्ठा करने का। हमारी अपनी अंगूरी भाबी (शुभांगी अत्रे अभिनीत) का

हर किसी के पास किसी खास चीज को लेकर जुनून होता है या फिर खास चीजों को लेकर उनका प्यार होता है। कुछ को तरह-ंउचयतरह के जूते इकट्ठे करने का शौक होता है तो किसी को होर्ड फ्रिज मैग्नेट का और कुछ को सिक्के इकट्ठा करने का। हमारी अपनी अंगूरी भाबी (शुभांगी अत्रे अभिनीत) का भी किसी भी आम लड़की की तरह ईयररिंग्स इकट्ठे करने का शौक है। अंगूरी भाबी के रूप में अपने सफर की शुरुआत करते हुए उन्हें चार साल हो चुके हैं और तब से ही वह ईयररिंग्स इकट्ठी कर रही हैं। छोटे, बड़े, चमकीले, उनके पास हर तरह की ईयररिंग्स हैं, लेकिन उन्हें खासतौर से कुंदन वर्क वाली ज्वैलरी ज्यादा पसंद है। शुभांगी को ऐसा लगता है कि कुंदन ज्वैलरी अंगूरी पर अच्छी लगती है, क्योंकि इससे उसे एथनिक और ट्रेडिशनल लुक मिलता है।

ईयररिंग्स के अपने बड़े कलेक्शन के बारे में बताते हुए वह कहती हैं, ‘‘टीनएज से ही मु-हजये तैयार होकर काॅलेज जाना पसंद था और तब से ही मु-हजये कपड़े और एसेसरीज इकट्ठा करने की आदत है। अपने एक्टिंग करियर के दौरान मु-हजये ज्वैलरी को लेकर अपने प्यार का अहसास हुआ और खासकर ईयररिंग्स को लेकर। जब मैंने -&tv के ‘भाबीजी घर पर हैं’ की शूटिंग शुरू की तो ईयररिंग्स को लेकर मेरा प्यार जुनून में बदल गया और मैंने नये पीसेस इकट्ठा करना शुरू कर दिया। ये ईयररिंग्स को मैंने भारत के अलग-ंउचयअलग हिस्सों में घूमने के दौरान खरीदी हैं। मु-हजये खासतौर से कुंदन ज्वैलरी बहुत पसंद है, इसलिये अभी हाल ही में जैसलमेर की ट्रिप के दौरान मैंने ईयररिंग्स की एक बहुत ही सुंदर जोड़ी ली, जोकि मु-हजये अपने पूरे कलेक्शन में सबसे ज्यादा पसंद है।’’

ईयररिंग्स के लिये अंगूरी भाबी के ब-सजय़ते जुनून के साथ इस शो ने -ंउचयज्ट पर हाल ही में 5 शानदार साल पूरे कर लिये हैं। यह शो कानपुर की माॅर्डन काॅलोनी के पड़ोसियों का खट्टा-ंउचयमीठा रिश्ता दिखाने में कभी पीछे नहीं रहा है। &Tv के ‘भाबीजी घर पर हैं’ का आगामी एपिसोड दर्शकों को हंसी के एक और सफर पर ले जाने को तैयार, जहां सीधे-ंउचयसादे मनमोहन तिवारी एक भैंस से शादी करने वाले हैं। अपनी मां और अनिता के जोर देने पर तिवारीजी एक भैंस से शादी करने को तैयार हो जाते हैं। ऐसा करने पर अंगूरी मां बन पायेगी और विभूति और अनिता को विभूति के मौसाजी से 50 करोड़ रुपये मिलेंगे। क्या तिवारी की शादी भैंस से हो पायेगी? क्या अनिता और विभूति को 50 करोड़ रुपये मिल पायेंगे?

Recent News

Follow Us