नयी दिल्ली: आगामी अप्रैल-मई में 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव कुछ सप्ताह आगे बढ़ सकते हैं। चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक बोर्ड परीक्षाओं की तिथियों को लेकर किसी प्रकार के विरोधाभाषों को टालने तथा अप्रैल तक पूरी प्रक्रिया संपन्न कर लिए जाने के लिए आयोग विधानसथा चुनाव को कुछ हफ्ते आगे बढ़ाने पर विचार कर सकता है।

सूत्रों ने संकेत दिया है कि आसन्न विधानसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा फरवरी मध्य तक की जा सकती है।

छह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बढ़े कोरोना के सक्रिय मामले

पश्चिम बंगाल , तमिलनाडु , असम, केरल और पुड्डुचेरी में इस वर्ष अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। इन राज्यों में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय बलों की मौजूदगी सबसे अधिक होगी।