कानपुर : उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर के बर्रा थाना क्षेत्र के बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक मुस्लिम युवक को सरेराह पीट दिया।बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कानून की बिना प्रवाह किये एक मुस्लिम युवक को धर्मांतरण का आरोप लगाते हुए। उसकी सरेराह पिटाई कर दी। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया। इस दौरान मुस्लिम युवक की मासूम बच्ची बिलखती। और रो-रोकर हाय पापा है पापा चिल्लाती रही लेकिन किसी का दिल नहीं पसीजा किसी ने भी मासूम का चेहरा एक बार भी नहीं देखा। भीड़ में शामिल लोग युवक को पीटते हुए जय श्रीराम के नारे लगवाते रहे। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया। तीन युवकों की गिरफ्तारी के बाद मामले ने और तूल पकड़ लिया गिरफ्तारी के कुछ ही देर बाद 12 अगस्त की देर रात बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने डीसीपी ऑफिस का ही घेराव कर डाला। इस दौरान जमकर नारेबाजी की गई। लोगों ने डीसीपी रवीना त्यागी के ऑफिस के सामने बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ भी किया।

धर्मांतरण का आरोप लगाकर की पिटाई

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र की रहने वाली रानी नाम की एक महिला ने अपने पड़ोसी अवतार अहमद पर जबरन उसका धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाया था। आरोप ये भी कि वह इसके लिए महिला को 20 हजार रुपये का लालच भी दे रहा था। ज्ञात हुआ है कि महिला ने इस घटना की जानकारी बर्रा थाने में शिकायत कर पुलिस अधिकारियों को दी थी। लेकिन महिला ने आरोप लगाया है कि जब किसी ने कोई सुनवाई नहीं की तो उसने घटना की जानकारी दो दिन पहले बजरंग दल के कुछ लोगों को दी। इसके बाद बजरंग दल के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने एक साथ मुस्लिम युवक के घर पर धावा बोल दिया। और युवक की सरेराह उसकी मासूम बेटी के सामने ही पिटाई शुरू कर दी। यही नहीं मासूम बच्ची की गुहार पर किसी भी कार्यकर्ता का दिल भी नहीं पसीजा
इस घटना का वीडियो काफी वायरल हुआ। वीडियो में देखा जा सकता है कि युवक से लिपटी हुई उसकी बेटी भीड़ से पिता को बख्शने की गुहार लगा रही है। लोग युवक से जयश्री राम बोलने के लिए कह रहे हैं। वीडियो पर बवाल होने के बाद पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ नामजद और 10 अज्ञात के खिलाफ FIR लिखी। 12 अगस्त को तीन आरोपियों- अजय, अमन और राहुल को जैसे ही पुलिस ने गिरफ्तार किया तो इस बात की जानकारी मिलते ही बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का खून खोल गया और उन्होंने डीसीपी ऑफिस के सामने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।

बड़ी जद्दोजहद के बाद खत्म हुआ धरना प्रदर्शन

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं कि गुरुवार कि जब गिरफ्तारी हुई तो गुरुवार आधी रात को बजरंगदल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने डीसीपी रवीना त्यागी के ऑफिस को घेर लिया। ये लोग गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे। इन लोगों ने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर दिया। कई घंटे तक ये सब चला। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने लोगों को समझाया। काफी कोशिशों के बाद धरना खत्म किया गया। बजरंगदल के नेताओं का कहना है कि उन्होंने इस आश्वासन पर अपना धरना खत्म किया कि जल्दी ही बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को छोड़ दिया जाएगा।

हालांकि जब इस संबंध में एडीसीपी साउथ कानपुर नगर अनिल कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हमने मारपीट के मामले में तीन युवकों को पकड़ा है। इस मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। जांच के बाद आपको फिर से पूरी जानकारी दी जाएगी।