प्यार अनमोल होता है जिसका कोई मोल नहीं होता, और यह प्यार बिना बताए होता है प्यार कब किस से और किस समय हो जाए नहीं कह सकते। अनमोल प्यार के किस्से सदियों से चले आ रहे हैं जिसका इतिहास में वर्णन भी किया गया है। पहले पौराणिक इतिहास उठाकर देखें तो उसमें प्रेम एक पवित्र बंधन होता था। प्यार हद में रहे तो एक प्यार होता है। लेकिन जब यह प्यार अदा धुंध हो जाए तो फिर यह प्यार करने वालों के ऊपर हावी हो जाता है।

बेटियों की शादी के बाद जब मां को हुआ प्यार

अजब गजब प्रेम की कहानी राजस्थान के अलवर जनपद की है जहां पर एक 34 वर्षीय महिला को जब देवर से प्यार हुआ तो वह प्यार में इतनी अंधी हो गई कि सही गलत और अपनी उम्र का लिहाज भी भूल गई। आपको बता दें कि अलवर शहर के एनईबी थाना क्षेत्र में पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। दो मार्च को ही घर में पति की संदेहास्पद मौत होने की पुलिस को शिकायत मिली थी। अगले दिन बुधवार शाम को ही NIB पुलिस ने मामले का चौकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस ने जो बताया उसे सुनकर सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई।


15 साल पुराना था बेवफा बीवी का प्यार

पुलिस ने मामले की तफ्तीश के बाद जब घटना का खुलासा किया तो सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। आपको बता दे कि मृतक युवक की पत्नी का मृतक के फुफेरे भाई के साथ अवैध संबंध थे। और यह संबंध 1 या 2 साल पुराने नहीं बल्कि 15 साल पुराने थे। जिसकी किसी को कानों कान भनक नहीं थी। दोनों दिल 15 साल से एक दूसरे के दिलों में धड़क रहे थे।

पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि पत्नी ने पति के फुफेरे भाई के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। लक्ष्मी नामक इस महिला की दो बेटी और एक बेटा है। दो बेटियों की शादी भी हो चुकी है। पुलिस ने बताया कि लक्ष्मी व उसके देवर के बीच करीब 15 साल से अफेयर चल रहा था। वह अपने पति संजय से परेशान थी। दुर्घटना में चोट लगने के बाद से पति अधिकतर समय बिस्तर पर पड़ा रहता था। प्रेम में बाधा बनने के कारण उसकी हत्या की गई।

बेवफा बीवी के साथ आशिक भी आया पुलिस की गिरफ्त में

अलवर पुलिस के मुताबिक 34 वर्षीय लक्ष्मी ने अपने देवर रविंद्र के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया था। आपको बता दें कि रविंद्र भरतपुर क्षेत्र के सेमला खुर्द गांव का रहने वाला है। वह उसके पति संजय की बुआ का बेटा है। महिला का बाल विवाह हुआ था। उसकी बेटियों की भी कम उम्र में ही शादी कर दी गई थी। अब एक चौथी कक्षा में पढ़ने वाला बेटा बचा है।

गला घोट कर बेवफा बीवी ने पति को दी दर्दनाक मौत


पुलिस ने बताया कि 2 मार्च को दोपहर के समय रवींद्र संजय के घर आया था। इसके बाद संजय और लक्ष्मी ने मिलकर बिस्तर पर आराम कर रहे संजय की चुनरी और स्कार्फ से गला घोंटकर हत्या कर दी। दोपहर के बाद जब संजय का बेटा स्कूल से आया तो उसने देखा कि पापा के कानों से खून निकल रहा है। इसके बाद भाई सहित अन्य लोगों को उसकी मौत का पता चला। बाद में संजय के भाई ने पुलिस को संदेहास्पद मौत होने की सूचना दी। पुलिस शाम को ही मृतक के घर पहुंची और दो मार्च की रात को ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को पता चला कि रवींद्र का संजय की पत्नी से अफेयर है। इसके बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस आरोपियों से और गहनता से पूछताछ कर रही है।

रिपोर्ट :- हेमंत अग्रवाल

राजस्थान ब्यूरो