आजमगढ़ : आजमगढ़ जनपद में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। पहले डकैत आपके घर में तिजोरी पर डाका डालते थे लेकिन समय बदलने के साथ साथ डकैत भी बदल रहे हैं। आजमगढ़ के अतरौलिया थाना क्षेत्र के ग्राम बांसगांव में एक दर्जन अज्ञात बदमाशों ने हत्यारों के बल पर जबरदस्ती एक भैंस लाद लिया। दूसरी भैंस लादते समय ग्रामीणों ने उन पर धावा बोल दिया। बदमाश दूसरी भैंस छोड़कर ईटा पत्थर चलाते हुए फरार हो गए जिससे ग्रामीणों में आतंक व्याप्त है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम वासगांव में बीती रात लगभग 3:00 बजे सिद्धू धोबी पुत्र स्वर्गीय राम नाथ की भैंस को पिकअप पर लाद दिया गया। डकैत उनके भाई मोहन की भैंस को मादक पदार्थ सुंघाकर लादने का प्रयास कर ही रहे थे कि उनकी पत्नी की नींद खुल गई। उनके विरोध करने पर उन्होंने उनकी पत्नी पर असलहा सटा दिया और उनकी भैंस पिकअप पर लादने लगे.शोर सुनकर ग्रामीणों ने डकैतों को चारों तरफ से घेर लिया तथा ईट पत्थर चलाने लगे। इस पर डकैत भी ईट पत्थर चलाने लगे और दूसरी भैंस छोड़कर मौके से फरार हो गए। ग्रामीणों के अनुसार डकैत पहले गदनपुर निवासी फूलचंद हरिजन के यहां भैंस लादने गए थे। वहां ग्रामीणों के विरोध करने पर वहां से फरार हो गए तत्पश्चात डकैत कबीरूद्दीन पुर निवासी वीरा हरिजन के यहां बकरी लादने गए कि वहां भी ग्रामीणों के विरोध करने पर असलहा सटाकर उनकी साइकिल लाद लिया.तत्पश्चात बांसगांव आकर घटना को अंजाम दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार डकैत 2 भैंस पिकअप पर पहले से लादे हुए थे तथा हथियार व ईट पत्थर से लैस थे। ग्रामीणों के अनुसार 15 दिन पूर्व बांसगांव बाजार में ताला तोड़कर डकैतों ने एक दर्जी के दुकान पर लगभग 50000 का माल साफ कर दिया था। उसके 1 माह पूर्व बांसगांव बाजार में ही 5 दुकानों का एक साथ ताला तोड़कर लाखों का माल पार किया था। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन से रात्रि में पिकेट ड्यूटी लगाए जाने की मांग की थी किंतु अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़ित सिद्धू धोबी द्वारा स्थानीय थाने पर घटना के संबंध में प्रार्थना पत्र दिया गया है। उपनिरीक्षक सौरभ सिंह द्वारा घटना की जांच कर कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया गया है। घटना से आक्रोशित गांव के तमाम लोगों ने भाजपा नेता रमाकांत मिश्रा से मिलकर पुलिस प्रशासन से रात्रि में पुलिस की पिकेट ड्यूटी लगाए जाने की मांग की है।

रिपोर्ट :- शैलेंद्र शर्मा