कोंच(जालौन):- कोतवाली के मुहल्ला भगत सिंह निबासी राज कुमार प्रजापति पुत्र वाल किशुन एवं मिन्नी ढीमर पुत्र लालन ने कोतवाली में तहरीर देते हुए बताया कि मुहल्ले के ही निबासी राम बिहारी राठौर पुत्र अज्ञात काम कराने के बहाने हम लोगों अपने घर बुलाता था और नशीला पदार्थ और शराब पिलाकर हमें बेहोश कर देता था।

इसके बाद हम लोगों के साथ बार बार दुष्कर्म करता था इतना ही नहीं उपरोक्त दुष्कर्म की अश्लील बीडियो अपने लैपटॉप पर दिखाता था और जीबन बर्बाद कर देने की धमकी देता था जिस पर पुलिस ने अभियुक्त राम बिहारी राठौर के खिलाफ धारा 328, 377, 506 आई पी सी 3/4 पास्को एक्ट व 67 ख आई टी एक्ट में मुकद्दमा दर्ज कर पुलिस ने मुखबिरों का जाल चारों ओर बिछा दिया और एक मुखबिर की सूचना पर पंचानन चौराहे के पास से राम बिहारी पुत्र स्व गयादीन निबासी मुहल्ला भगत सिंह नगर को गिरफ्तार करते हुए अभियुक्त की निशान देही पर एक अदद लेपटॉप, पेन ड्राइब, डीबीआर व हार्ड डिस्क बरामद कर कोतवाली ले आयी जिसका डॉक्टरी परीक्षण कराते हुए पुलिस ने जेल भेज दिया। ।

गिरफ्तार करने बाली टीम में क्राइम कोतवाल उदयभान गौतम, कांस्टेविल हरेंद्र सिंह चाहर, बिकास व अजय कुमार शामिल थे । आपको बता दें कि अभियुक्त राम बिहारी राठौर पूर्व में राजस्व बिभाग में कानूनगो के पद पर रह चुका है और बर्तमान में सत्तारूढ़ पार्टी भा ज पा का नगर उपाध्यक्ष भी था जैसे ही रामबिहारी के कुकर्मों की जानकारी भा ज पा के आला कमान को हुई तो तत्काल ही भारतीय जनता पार्टी के नगर अध्यक्ष सुनील लोहिया ने दिनांक 27 दिसम्बर 2020 का प्रेस नोट जारी करते हुए बताया कि पूर्व में ही भा ज पा नगर उपाध्यक्ष ने 18 दिसम्बर 2020 को जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह बना जी को संबोधित पत्र लिखते हुए नगर उपाध्यक्ष पद एवं संगठन की प्राथमिक सदस्यता से त्याग पत्र दिए जाने के लिए अनुरोध किया था जिसे स्वीकार कर लिया गया था अब इसमें क्या सत्यता है ये तो अभियुक्त और भा ज पा दल के नेता ही जानते है।

रिपोर्ट :- नवीन कुशवाहा