प्रतापगढ :: उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुयी। इस घटना में भाजपा के स्थानीय सांसद संगम लाल गुप्ता को मामूली चोटें आयी। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर हमले की निंदा की और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही। उन्होने कहा “ प्रतापगढ के सांगीपुर ब्लॉक में आयोजित गरीब कल्याण मेले में भाजपा सांसद एवं भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव संगमलाल गुप्ता पर हमला करने वाले गुंडों के ख़िलाफ़ कठोर कारवाई जल्द से जल्द किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। एक भी दोषी को बक्शा नहीं जायेगा।”


दरअसल, विधान सभा क्षेत्र रामपुर खास के सांगीपुर ब्लाक के सभागार में शनिवार को आरोग्य मेला आयोजित किया गया था जिसमें काग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी और उनकी पुत्री एवं उप्र विधानसभा में कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता अराधना मिश्रा मोना मौजूद थी। इस बीच मुख्य अतिथि के रूप में प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता पहुंचे जिसके बाद सभा स्थल पर हंगामा शुरू हो गया।


कांग्रेस और भाजपा समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी हुयी जो देखते ही देखते मारपीट में तब्दील हो गयी। इस बीच सांसद संगम लाल गुप्ता अपने सुरक्षा गार्ड के साथ सभागार से निकल कर भागे। मारपीट के दौरान सांसद के कपड़े फट गये और उनकी गाड़ी में तोड़ फोड़ की गई।

घटना के बाद संगम लाल गुप्ता ने अपनी फटी हुई शर्ट को दिखाते हुए कहा कि योजनाबद्ध तरीके से उन पर हमला कराया गया है। आरोप है कि कांग्रेसियों ने भाजपा कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा और भाजपा सांसद की कई गाड़ियों को पथराव और लाठी-डंडे से क्षतिग्रस्त कर दिया।


सांसद ने कहा कि सांगीपुर ब्लाक में वह एक सरकारी कार्यक्रम में भाग लेने गये थे जहां मंच पर योजनाबद्ध तरीके से 50-60 लोग मौजूद थे। वहां मौजूद एक पुलिस अधिकारी ने मंच से लोगों को हटने के लिये कहा जिस पर उन्होने पुलिस अधिकारी के साथ मारपीट शुरू कर दी। जब उन्होने ऐसा करने से मना किया तो भीड़ उन पर टूट पड़ी। उन्होने किसी तरह बच कर अपनी जान बचायी। उपद्रवियों ने उनके वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

वार्ता