गोंडा:- जनपद के विकास खंड हलधर मऊ ग्राम पंचायत सेल्हरी में स्थानीय वर्तमान भाजपा विधायक व उनके छोटे भाई पर मतगणना में गड़बड़ी कराकर जीते हुए प्रधान पद प्रत्याशी को हराने का तथा हारे हुए प्रत्याशी को प्रमाण पत्र दिलवाने का आरोप लगाया गया है। पीड़ित प्रत्याशी के मुताबिक ग्राम पंचायत सेल्हरी के प्रधान पद प्रत्याशी मालती पत्नी शिवकुमार को 613, तथा अब्दुल हक को 606,राम सुफल को 602 वोट प्राप्त हुए। यहां और कुल 8 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे थे उन्हें औसत से बहुत कम वोट मिले। 226 मत अवैध घोषित कर दिये गये। यहां कुल 4104 मतदाता हैं इनमें से 2620 वोट 6 बूथों पर मतदान हुआ इस तरह से विजेता प्रत्याशी दिखाई पड़ रहे मालती पत्नी शिवकुमार का आरोप है कि वर्तमान भाजपा विधायक बावन सिंह के भाई ने मतगणना में गड़बड़ी कराकर उनको मात्र 14 वोटों से हरा दिया। मतगणना में तीसरे नंबर के प्रत्याशी सीता पत्नी राम सुफल को जिता दिया गया है। जब उन्होंने इसकी शिकायत निर्वाचन अधिकारी मृत्युंजय सिंह से की तो उन्होंने पुलिस बुला लिया। पुलिस कर्मियों ने गाली गलौज करते हुए उन्हें मतगणना स्थल से भगा दिया गया है। वह अपने दर्जनों समर्थकों के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही से मिलने चले गये।

हलधरमऊ के चुनाव अधिकारी मृत्युन्जय सिंह से जब सेल्हरी गांव की गड़बड़ी की शिकायत पर फोन काल से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो उनका फोन आउट आफ कवरेज एरिया बताया। एसडीएम शत्रुघ्न पाठक से इस बारे में फोन से बात करने की कोशिश की गई उनके फोन का कोई रेस्पांस नहीं मिला।इस तरह से हलधरमऊ में मतगणना कराई गई।

रिपोर्ट राहुल तिवारी जिला संवाददाता गोंडा