हाथरस डीएम, एसपी के खिलाफ कानपुर में दर्ज हुआ मुकदमा

by saurabh

कानपुर। हाथरस में हुयी घटना को लेकर पूरे देश में एक उबाल सा आ गया है, जगह-जगह धरना प्रदर्शन कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की मांग की जा रही है। इसी बीच कानपुर की एक महिला अधिवक्ता ने हाथरस डीएम,एसपी व एक इन्स्पेक्टर के खिलाफ माननीय न्यायालय में परिवाद दाखिल कर दिया। माननीय न्यायालय ने परिवाद को स्वीकार करते हुए 18 तारीख को सुनवाई करेंगे।

हाथरस में लड़की के साथ हुए कथित गैंगरेप की घटना और उसकी मौत होने से पूरे देश में एक आक्रोश सा नजर आ रहा था। हाथरस की घटना को अंजाम दिया गया, जिसको लेकर आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन होने लगे। इसी बीच हाथरस के डीएम और एसपी ने उस बेटी का अंतिम संस्कार रात में ही करवा दिया।

हाथरस के जिला प्रशाशन की इस कार्य प्रणाली से नाराज कानपुर की महिला अधिवक्ता आकांशा सविता ने वंहा के डीएम,एसपी व क्राइम ब्रांच के इन्स्पेक्टर आईपीसी की धारा 120बी, 295ए, 406, 304, 147, 148, 219, व 201 के अंतर्गत महानगरीय मजिस्ट्रेट सप्तम में परिवाद दाखिल किया। माननीय न्यायालय ने परिवाद को स्वीकृत करते हुए 18 तारीख को अगली सुनवाई की तारीख मुक़र्रर की है।

परिवाद दाखिल करने वाली महिला अधिवक्ता आकांशा सविता का कहना है कि हिन्दू रीती रिवाज में दिन में अंतिम संस्कार किया जाता है। लेकिन वंहा के डीएम व एसपी ने साक्ष्य छुपाने के लिए उसका अंतिम संस्कार रात में कर दिया।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts