सिरोही । एम्बुलेंस का अधिक किराया वसूलने पर रोग के लिए जिला प्रशासन ने बडा कदम उठाते हुए जिले की समस्त एम्बुलेंस को अधिग्रहण कर लिया है। अब कोई एम्बुलेंस वाला सरकार की ओर से निर्धारित किराये से अधिक किराया राशि नहीं ले सकेगा। इसी के तहत जिला परिवहन विभाग ने एक परिवहन निरीक्षक की डयूटी भी तय की है, तथा जिला अस्पताल एवं अन्य बडे अस्पतालों पर जिला प्रशासन की ओर तय दरों के बैनर भी लगाए है।
इसी क्रम मे एम्बुलेंस व शववाहनों के लिए जिला अस्पताल में केन्द्रीय एम्बुलेंस सेवा बूथ स्थापित किया है जिसके प्रभारी परिवहन उपनिरीक्षक गुलाबसिह होगे जिनके मो. 9950056765 है।
प्रभारी के सहातार्थ उक्त बूथ पर तीन पारियों में दो-दो कार्मिक लगाए गये हैं, नियुक्त कार्मिक बूथ पर रजिस्टर संधारित कर आवश्यकता/ मांग अनुसार एम्बुलेंस आवंटन की कार्यवाही करेंगें। इसी प्रकार आबूरोड क्षेत्र में एम्बुलेस की सेवा एक स्थान पर उपलब्ध हो सके इसके लिए महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय (दरबार स्कूल) में खडा करने के लिए वाहन मालिकों को पाबंद किया गया है साथ ही इस व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए कार्मिको की डयूटी भी लगायी गई है। आबूरोड के विकास अधिकारी इसके प्रभारी अधिकारी होंगे।
बूथ पर परिवहन विभाग द्वारा जारी किराया सूची लगा दी गई है जिसके तहत प्रथम 10 कि.मी. तक (आना-जाना समिल्लित है) 500 रू. देय होगें व 10 कि.मी के बाद मारूती वेन, मार्शल, मेक्स श्रेणी की एम्बुलेंस का किराया 12.50 रू. प्रति कि.मी एवं टवेरा, इनोवा, बोलेरो, क्रूजर, रायनों श्रेणी के एम्बुलेंसों का किराया 14.50 रू. प्रति कि.मी तथा अन्य बडे एम्बुलेंस/शव वाहनों का किराया 17.50 रू प्रति कि.मी. होगा। एसी वाहन होने पर 1 रू प्रति कि.मी अतिरिक्त चार्ज व कोविड के मरीज एवं शव को ले जाने हेतु एम्बुलेंस चालक को 350/- रू अतिरिक्त चार्ज उपभोक्ता को देना होगा।

रिपोर्ट हेमन्त अग्रवाल राजस्थान ब्यूरो चीफ