सिरोही । जिला कलक्टर के निर्देशानुसार ’’बाल श्रम मुक्त जिला’’ के तहत बाल अधिकारिता विभाग, बाल कल्याण समिति , श्रम कल्याण विभाग एवं माहिला अधिकारिता विभाग ने संयुक्त रूप से राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय माकरोडा एवं सिन्दरथ में पहुंच कर। अध्ययनरत विधार्थियों से वार्ता कर जागरूक किया एवं बाल श्रम से जीवन पर होने वाले दुष्प्रभाव से अवगत करवाया। साथ ही शपथ दिलवाई की बाल श्रम न करेगें न होने देगें एवं बाल श्रम की सूचना चाईल्ड लाईन नम्बर 1098 पर देगें।

बाल कल्याण समिति अध्यक्ष कल्पना कुंवर राणावत ने विधालय की बालिकाओं को मोटिवेशनल मूवी के माध्यम से गुड-टच बेड की जानकारी दी। सहायक निदेशक महिला अधिकारिता विभाग अंकिता राजपुरोहित ने बालिकाओं एवं बालकों को जीवन में निरन्तर शिक्षा ग्रहण करने हेतु प्रेरित किया।

श्रम विभाग से श्रम कल्याण अधिकारी डुंगराराम जी ने बाल श्रम से होने वाले नुकसान एवं श्रम विभाग द्वारा जारी जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। सहायक निदेशक राजेन्द्र कुमार पुरोहित जिला बाल संरक्षण इकाई एवं बाल अधिकारिता विभाग ने बालकों को सादा जीवन एवं उच्च विचार के साथ जीवन जिने की शिक्षा दी। इस अवसर पर सदस्य बाल कल्याण समिति हनुमान सिंह आढा, दरजिंगजी पुरोहित, श्रम कल्याण अधिकारी डुंगाराराम , परिवीक्षा एवं कारागृह कल्याण अधिकारी राजाराम चैधरी, आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट हेमन्त अग्रवाल राजस्थान ब्यूरो