कोरोना प्रतिबंधों से घरेलू व्यापार में आई 30 प्रतिशत की गिरावट

नई दिल्ली- कोरोना के कारण लगे प्रतिबंधों से देश के व्यापार में एक सप्ताह में 30 प्रतिशत और उपभोक्ताओं का बाज़ारों में आगमन 50 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गयी है।

अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ ने रविवार को यहां कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में तेजी से बढ़ते कोविड-19 के मामलों ने उपभोक्ताओं के मन में एक प्रकार की दहशत पैदा कर दी है और इसी कारण से विभिन्न राज्यों से रोकथाम के लिए रात्रि कर्फ्यू ,आंशिक लॉकडाउन तथा अन्य अनेक क़दमों से पिछले एक सप्ताह में खुदरा व्यापार में 30 प्रतिशत की कमी आई है। रात्रि कर्फ्यू लगने के कारण एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने वाले व्यापार की काम ढुलाई होने के कारण लगभग 15 से 20 प्रतिशत के व्यापार की गिरावट थोक व्यापार में आई है।

देश के अनेक राज्यों में कई प्रकार के प्रतिबन्ध लगने तथा कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने के कारण बाज़ारों में उपभोक्ताओं का आना-जाना लगभग 50 प्रतिशत कम हो गया है।

ये भी पढ़ें- ईरान का आरोप, अमेरिकी प्रतिबंधों के कारण नहीं मिल पा रही कोरोना वैक्सीन

परिसंघ के अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि महाराष्ट्र, पंजाब, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों के व्यापार में कमी आयी है।

उन्होंने कहा कि देश में तेजी से बढ़ते कोविड मामलों के कारण लोगों ने अब घर से बाहर निकलना काफी हद तक कम कर दिया है जिसका असर खुदरा बाज़ारों पर साफ़ दिखाई पड़ रहा है। लगभग सारे देश में दिन में मालवाहक वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबन्ध है जो रात्रि नौ बजे खुलता है लेकिन तब तक अधिकांश राज्यों में रात्रि कर्फ्यू लग जाता है, इसलिए थोक माल की आवाजाही पर भी 15 से 20 प्रतिशत कमी आयी है।

इन्पुट- यूनीवार्ता