कानपुर: अधिवक्ता कल्याण संघर्ष समिति ने महाधिवक्ता/अध्यक्ष ,न्यासी समिति उत्तर प्रदेश को ज्ञापन भेज दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों को सामूहिक बीमा योजना से प्राप्त होने वाली धनराशि रुपया 5 लाख के शीघ्र भुगतान की मांग की है।


दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों को मिलने वाला रुपया 5 लाख जारी करो-जारी करो, सामूहिक बीमा योजना का रुपया जारी करो-जारी करो आदि नारे लगाते हुये आज अधिवक्तागण जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंचे जहां पर संयोजक पं रवीन्द्र शर्मा ने बताया कि वर्षों से दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों को सामूहिक बीमा योजना योजना से प्राप्त होने वाला रुपया 500000 नहीं मिला। हमारी संघर्ष समिति के काफी प्रयासों के मध्य ही उच्च न्यायालय इलाहबाद के आदेश से अप्रैल 2020 में काफी फार्मों का निस्तारण किया गया था जिनमे कानपुर के भी बहुत से दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों को ₹5 लाख प्राप्त हुआ था।

आर्थिक संकट से गुज़र रहे हैं परिवार

तब से 1 वर्ष होने जा रहा है अभी भी वर्षों पूर्व दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों द्वारा जमा किए गए फार्म लंबित है। दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजन गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं और बीमा योजना से प्राप्त होने वाली धनराशि के लिए परेशान घूम रहे है महाधिवक्ता ही न्यासी समिति के अध्यक्ष है। अतः हमारा आग्रह है कि तत्काल समस्त दावों का निस्तारण करते हुए बीमा योजना से प्राप्त होने वाला रुपया जारी कर दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों को हो रही आर्थिक कठिनाइयों से मुक्ति दिलाये।

ईपीएफओ से जुड़े छह लाख से अधिक अंशधारक

अविनाश बाजपाई पूर्व अध्यक्ष लायर्स एसोसिएशन ने कहा कि न्यासी समिति को चाहिए कि कम से कम दिवंगत अधिवक्ताओं के परिजनों की सुधि लेते रहे और समय से सामूहिक बीमा योजना का भुगतान करें। इसी मध्य उप जिलाधिकारी /ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कानपुर नगर लक्ष्मी वी एस ने आकर ज्ञापन प्राप्त किया और कहा कि तत्काल आपका ज्ञापन आवश्यक कार्रवाई हेतु महाधिवक्ता महोदय को भेज दिया जाएगा ।
इस मौके पर प्रमुख रूप से बी एल गुप्ता अध्यक्ष इनकम टैक्स बार एसोसिएशन, मो कादिर खा, हिमाचल निषाद कोषाध्यक्ष लायर्स एसोसिएशन, वेद उत्तम, मो तौहीद, ग्रीन बाबू सोनकर, अंकुर गोयल, संजीव कपूर, अजय कश्यप, जागेंद्र अवस्थी, कुलदीप यादव, अनिल मिश्रा, वीरू, शाहिद जमाल, मोहित शुक्ला, के के यादव आदि मौजूद रहे।