फ़िरोज़ाबाद: जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह ने शहर वासियों को अनवरत पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए आज मंगलवार को जसराना नवीन नहर परियोजना एवं फिरोजाबाद पुनर्गठन पेयजल योजना का नगर विधायक मनीष असीजा व नगर आयुक्त विजय कुमार के साथ अकस्मिक निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान योजना अंतर्गत सिंचाई विभाग द्वारा निर्मित नवीन जसराना नहर में सिल्ट सफाई का कार्य होते पाया गया। नहर में आगामी 24 दिसंबर को पानी छोड़ा जाना है। संपूर्ण नहर की लंबाई 25 किलोमीटर है इसको दृष्टिगत रखते हुए जिला अधिकारी ने इसे तीन हिस्सों में बांटते हुए 0 से 13 किलोमीटर तक का नहर विभाग, 13 से 18 किलोमीटर तक नगर निगम एवं 18 किलोमीटर से अंत तक जल निगम को सिल्ट सफाई सफाई कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कार्य में गति लाने के लिए निर्देश दिए कि जेसीबी एवं ट्रैक्टरों की संख्या में वृद्धि के साथ-साथ मैन पावर को भी बढ़ाए जाएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जेसीबी एवं ट्रैक्टरों का प्रयोग सुनियोजित तरीके से किया जाए। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान उपस्थित महाप्रबंधक जलकल विभाग को मौके पर ही निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान उन्होंने बृहद जसराना नवीन नहर परियोजना के अंतर्गत सेंगर नदी में सिंचाई व अन्य कार्य हेतु पानी छोड़े जाने के लिए बनाए जा रहे चैनल का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया कि मानक बोर्ड के न लगाए जाने तथा मानक के अनुसार गुणवत्तापूर्ण सामग्री न पाए जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त की उन्होंने मौके पर ही उपस्थित अधिशाषी अभियंता नहर को निर्देश दिए कि वह निर्माण कार्य से संबंधित मानक के अनुरूप निर्माण सामग्री का प्रयोग किया जाए तथा कार्य स्थल पर बोर्ड लगाकर मानक सामग्री का लेखन स्पष्ट रूप से कराया जाए।

रिपोर्ट-सिद्धार्थ तिवारी
न्यूज़क्रांति न्यूज़
फ़िरोज़ाबाद