कानपुर : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के दिशा निर्देशन पर उत्तर प्रदेश प्रशासन अंडरवर्ल्ड माफिया एवं अपराधियों के आशियाने ढहाने में लगा है। इसी क्रम में आज कानपुर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए काकादेव थाना क्षेत्र के अंतर्गत ड्रग्स माफिया सुशील बच्चा और उसके भाई राजकुमार के महल नुमा आशियाने के ध्वस्त कर दिया। आपको बता दें कि ड्रग्स माफिया के घर पर कानपुर पुलिस की जेसीबी ने महल को खंडहर में तब्दील कर दिया।

इस कार्रवाई के लिए सीसामऊ सीओ निशांक शर्मा के साथ गांठिण पुलिस अधिकारियों की टीम सुशील बच्चा के अर्मापुर स्थित आशियाने पहुंची। जहां पहुंचकर पुलिस टीम ने पहले एलान किया फिर आशियाने के अंदर जाकर छानबीन की और फिर धवस्तिकारण की कार्रवाई शुरू करा दी। जिसके बाद पुलिस टीम सीधे सुशील बच्चा के भाई राजकुमार द्वारा कब्जा की गई श्रम विभाग की बनी कालोनी शास्त्री नगर पहुंची। जहां पहुंचकर अधिकारियों ने राजकुमार द्वारा की गई कालोनियों को खाली कराया। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ सख्त अभियान छेड़ रखा है। जिसके तहत कानपुर में सुशील बच्चा व उसके भाई के खिलाफ इस प्रशासनिक कार्रवाई ने तहलका मचा दिया।

आपको बता दें कि सुशील बच्चा पिछले कई अर्सो से मादक पदार्थो की तस्करी करने के काले कारोबार में लिप्त था। जिसके खिलाफ कई बार उसे गिरफ्तार भी किया गया था और इस बार ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करते हुए दूसरे ड्रग्स माफियाओं को कड़ी चुनौती दी गयी है।