logo
कानपुर : फिर फूटा कोरोना बम, 9 दिन में 18 गुना बढ़े मामले
दिन में लाखों की रैलियां कर लीजिए मजाल है जो कोरोना का खतरा हो, लेकिन रात 11 बजे अगर आप किसी काम से गलती से निकल गये तो भन्न से कोरोना आपको जकड़ सकता है। और हो सकता है एक दो लाठी मुफ्त में मिल जायें। 
 

शहर में कोरोना संक्रमण फिर एक बार बेलगाम होकर पैर फैलाने लगा है। सरकारी आंकड़ों की बात करें तो 21 दिसंबर को शहर में 2 एक्टिव केस थे, जबकि 9 दिन बाद 2 जनवरी 2022 को कोरोना के कुल सक्रिय मामले बढ़कर 37 पहुॅच गये है। वहीं आज एक दिन में 14 केस सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है। 

नेताओं से डरता है कोरोना
यूँ तो पूरी ​भारत छोड़कर पूरी दुनिया में कोरोना बिना जाति धर्म रंग देखे फैलता है, लेकिन भारत आते आते इसमें साधारण भीड़ और नेताओं के कार्यक्रम को पहचानने की क्षमता आ जाती है। क्योकि भारत में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। लगभग सभी राज्यों में क्रमबद्ध तरीके से सिनेमा, स्कूल, शादी विवाद जैसे कार्यक्रमों में पाबंदियों के फैसले लिए जा र​हे है, लेकिन उत्तर प्रदेश सहित अन्य चुनावी राज्यों में नेताओं की रैलियाँ ताबड़तोड आयोजित की जा रही है। इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा भीड़ लाने के लिए शासन प्रशासन तक को लगाया जा रहा है। 

कोरोना नहीं 'शहंशाह' कहिए जनाव
पुरानी फिल्म का एक डॉयलॉग याद होगा 'अंधेरी रातों में सूनसान सड़कों पर शहंशाह निकलता है'। फिल्म की शूटिंग पूरी होते ही शहंशाह ने भी रात की निकलना बंद कर दिया। लेकिन कोरोना के आने के बाद से शहंशाह की कमी नहीं खलती है। चुनावी राज्यों में खासकर उत्तर प्रदेश में दिन में लाखों की रैलियां कर लीजिए मजाल है जो कोरोना का खतरा हो, लेकिन रात 11 बजे अगर आप किसी काम से गलती से निकल गये तो भन्न से कोरोना आपको जकड़ सकता है। और हो सकता है एक दो लाठी मुफ्त में मिल जायें। 

हालांकि देश में फिलहाल चुनाव से ज्यादा जरूरी और कुछ नजर नहीं आ रहा है। लेकिन अगर आपको अपनी जान और घर वालों से प्यार है तो न्यूजक्रांति की पूरी टीम आपके निवेदन करती है कि बिना किसी जरूरी काम के घर के बाहर न निकले, न ही अति आवश्यक होने पर सिर्फ शौक पूरा करने और वीडियो बनाने के उद्देश्य से सार्वजनिक यातायात का प्रयोग करें। क्योकि अगर तीसरी लहर के बाद आप सुरक्षित रहे तो सभी सार्वजनिक यातायात पहले की ही तरह चलते रहेंगे और शौक बाद में भी पूरे हो सकते है। फिर भी किसी काम से बाहर निकलना ही पड़े तो मास्क जरूर पहनें। 


Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।