‘क्रातिं की मशाल’ जला कर मांगा रोजगार

by saurabh
Published: Last Updated on

कानपुर।एक तरफ जहा पूरे देश व प्रदेश में कोरोना महामारी का कहर देखने को मिल रहा है वही कोरोना महामारी के चलते पूरे देश व प्रदेश में बेरोजगारी फैली हुई है जिसकी वजह से आम जनता को काफी ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है आलम यह है कि लोग आत्महत्या तक करने को मजबूर हो रहे है वही अब विपक्ष में बैठी राजनैतिक पार्टियां भी सरकार को अपना निशाना बनाने में लगी हुई है.

बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ सपा मुखिया अखिलेश यादव के आवाह्न पर सरकार के खिलाफ सपाई एकजुट नज़र आए। आवाह्न पर सपाइयों ने रात 9 बजे 9 मिनट तक कैंडल जलाकर जमकर नारेबाजी करते हुए सरकार के विरुद्ध आक्रोश व्यक्त किया। इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए “निक्कमी सरकार” कहकर संबोधन किया।
सपा युवजन सभा के नगर अध्यक्ष वीरेंद्र त्रिपाठी की अगुआई में यह जबरदस्त हल्ला बोल प्रदर्शन किया गया।तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेसियो ने भी बढ़ती बेरोजगारी के मुद्दे पर भाजपा सरकार के खिलाफ कैंडल मार्च निकाल कर आक्रोश व्यक्त किया। जिलाध्यक्ष वीरेंद्र त्रिपाठी ने कहा जब से केंद्र और राज्य में भाजपा सरकार आयी है तब से लगातार बेरोजगारी बढ़ रही हैं। काम धंधे ठप हो गए है, जिससे युवाओं की नौकरियां जा रही हैं और भाजपा की इस गूंगी बहरी सरकार को कुछ नज़र नही आ रहा हैं।

तो वही कानपुर के गोविंद नगर में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्ती व मोमबत्तियां लेकर मानव श्रृंखला बनाकर अपना विरोध प्रदर्शन किया। ।

वही मौके पर मौजूद कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश सचिव विकास अवस्थी का कहना है कि आज हमलोगों ने बढ़ती हुई बेरोजगारी के खिलाफ मोमबत्ती व दिया जलाकर सोई हुई सरकार को जगाने का काम कर रहे है देश मे युवा बेरोजगार है सरकार को युवाओं के हिट के लिए सोचना चाहिए।

Related Posts