फतेहपुर :- फतेहपुर जनपद इस समय अन्ना गोवांसो की भरमार है जिससे यह अन्ना गोवांस किसानों की फसल चौपट कर रहे हैं जिसको लेकर अब किसान परेशान हैं और उन्हें अपने पेट की चिंता सताने लगी है। ज्ञात हो कि योगी सरकार द्वारा अन्ना गोवांशो की बिक्री पर रोक लगा दी गई थी।

जिसके बाद सरकार द्वारा यह वादा किया गया था की अन्ना गोवांशो की रोकथाम के लिए जगह-जगह गौशालाओं का निर्माण कराया जाएगा लेकिन यमुना पट्टी के कई इलाके ऐसे हैं जहां आज तक गौशालाओं का निर्माण नहीं कराया गया जिसके चलते यमुना तटवर्ती इलाकों पर अन्ना गोवंश की भरमार हो गई है। और अब वह लोगों की फसल चौपट कर रहे हैं ऐसा ही एक मामला विजयीपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत मडौली का है जहां ग्रामीण अन्ना गोवांशो से परेशान हैं पूर्व में भी अन्ना गोवंश द्वारा किसानों की फसल चौपट की जा चुकी है जिसके लिए किसानों ने उच्च अधिकारियों को शिकायती पत्र देते हुए।

गौशाला बनवाने की मांग की थी लेकिन उच्च अधिकारियों ने किसानों की बातों को अनसुना कर दिया जिसके बाद किसान परेशान हैं जिसको लेकर रविवार को मडौली गांव के करीब एक सैकड़ा से अधिक किसानों ने पंचायत भवन के समीप बने एक मंदिर पर एक बैठक आयोजित की उस बैठक के दौरान उन्होंने गौशाला निर्माण की मांग की किसानों ने बताया कि कई बार गौशाला बनवाने के लिए ग्राम प्रधान से कहा गया लेकिन ग्राम प्रधान ने बातों को अनसुना कर दिया जिसके बाद उप जिला अधिकारी को भी इससे अवगत कराया गया लेकिन किसी भी अधिकारी ने मामले में संज्ञान नहीं लिया ग्रामीणों ने खंड विकास अधिकारी पर भी आरोप लगाते हुए बताया कि खंड विकास अधिकारी के पास भी शिकायत दर्ज की गई थी लेकिन खंड विकास अधिकारी ने भी यह कह कर मामले को टाल दिया कि ग्राम प्रधान को बोलकर निर्माण करा दिया जाएगा लेकिन अब जब खंड विकास अधिकारी को फोन किया जाता है तो वह किसानों  का फोन तक भी उठाना उचित नहीं समझते हैं जिसको लेकर मडौली गांव निवासी करीब एक सैकड़ा किसान अब मुख्यमंत्री की चौखट पर जाकर गौशालाओं बनवाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के जनता दरबार में गुहार लगाएंगे ।

रिपोर्ट :  वी.के द्विवेदी