माधौगढ़(जालौन) – ऊमरी में किसानों का खाद के लिये हजूम लगा रहा खाद ना मिल पाने के कारण किसान मायूश है , इन दिनों गेहू की बिजाई का काम अंतिम चरण में चल रहा है। किसानों को समय पर खाद न मिलने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। खाद के लिए भी बिक्री केंद्रों किसानों की अच्छी खासी भीड़ लगी रहती है। सहकारी समिति और इफको किसान सेवा केंद्र पर किसानों की काफी भीड़ लगी रही। दिन भर किसानों को खाद लेने के लिए यहां पर जमावड़ा लगा रहा। किसान दिन भर खाद लेने के लिए खाद की गाड़ी आने के इंतजार में बठे रहे।

किसान रामसुन्दर तिवारी , राजेन्द्र दोहरे , प्रमोद तिवारी, रामेश्वरी , केशव सिंह आदि का कहना है कि समय पर खाद न मिलने के कारण उन्हें आने जाने की समस्या तो होती ही है साथ ही उनकी फसलों को समय पर खाद न मिलने के कारण उनके भी बर्बाद होने का खतरा बढ़ता जा रहा है। खाद की गाड़ी न आने के कारण किसानों को खाली हाथ ही वापिस अपने घरों को लोटना पड़ा। सहकारी विपणन एवं प्रशासन समिति में खाद किसानों को समय पर मुहाइया ना हो पाना उनके के लिए मायूशी की बात है हालांकि यदि कहा जाये तो हर बार किसान यूरिया खाद की कमी का हवाला देते हुए पर्याप्त यूरिया उपलब्ध कराने की मांग करता है।

लेकिन क्षेत्र में जरूरत के मुताबिक यूरिया खाद उपलब्ध नहीं कराया जाता। सीजन के दौरान किसानों को परेशानी होती है और ब्लैक में यूरिया खरीदना पड़ता है। वहीं कृषि विभाग हर साल यूरिया सहित अन्य उर्वरक पर्याप्त मात्रा में होने का दावा करता है लेकिन दावों की हकीकत किसी से छिपी नहीं है। सीजन आते ही यूरिया सहित अन्य खाद के लिए मारा-मारी मच जाती है।

रिपोर्ट : मनोज कुमार शिवहरे