फ़िरोजाबाद :- थाना बसईमोहम्मदपुर क्षेत्र उस्मानपुर गांव स्थित एक घर मे जलती मोमबत्ती से आग लगने पर उसमे सो रही मां व उसके तीन बच्चे झुलस गए, अचानक आग की लपटों से महिला की आंख खुली अपने तीनो बच्चो को बाजर निकालने में वह कुछ अधिक झुलस गईं, साथ ही बचाने में परिवार की एक अन्य महिला भी कुछ झुलस गई, सभी को जिला अस्पताल लाया गया। जहां उनका उपचार किया का रहा है।

थाना बसईमोहम्मदपुर क्षेत्र उस्मानपुर निवासी 35 वर्षीय सरोज पत्नी नीरज, उसकी पांच वर्षीय बेटी मोनिका, दो वर्षीय बेटा कान्हा, डेढ़ वर्षीय नीरज आदि सब अपने घर के कमरे में सो रहे थे, महिला सरोज के अनुसार वह अपने बच्चे को दूध पिला रही थी अचानक उसकी आंख खुली तो देखा कमरे में आग ही आग थी उसने झटपट अपने छोटे बच्चे को बाहर निकाला, फिर दो अन्य बच्चों को अन्दर आग में ढूढा, उनको भी निकाल कर लाई, बताया देवरानी और सास बाहर सो रहे थे। बचाने में मामूली रुप से देवरानी भी झुलस गई। बताया कोई दमकल नहीं आई थी पानी डालकर बुझाया था आग को, सभी को जिला अस्पताल लाया गया। यहां महिला सरोज ने बताया कि लाइट चली गई थी उसने मोमबत्ती जलाकर रख दी थी संभवत उसकी वजह से आग लग गई। फिलहाल चिकित्सक के अनुसार सभी को उपचार देकर बर्न वार्ड भिजवा रहे है

रिपोर्ट-सिद्धार्थ तिवारी