कानपुर : उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव के पहले से ही गोलियों की तड़प राहत एवं लड़ाई झगड़ों से जूझ रहा था। आए दिन प्रदेश के कई जगह से खबरें आ रही थी कि चुनावी रंजिश को लेकर लड़ाई हुई है गोली चली। लेकिन चुनाव होने के बाद भी बेखौफ दबंग हरकतों से नहीं सुधर रहे। लगता है उत्तर प्रदेश में किसी को पुलिस प्रशासन का डर ही नहीं बचा। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर के घाटमपुर थाना क्षेत्र का है।

जहां पंचायत चुनाव के परिणाम आने के बाद बेंदा गांव में पूर्व प्रधान ने नवनिर्वाचित प्रधान के परिजनों पर फायरिंग कर दी जिससे नवनिर्वाचित प्रधान के कई परिजन घायल हो गए जिनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना घाटमपुर कोतवाली के बेंदा गांव की है।


मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि घाटमपुर कोतवाली के अंतर्गत बेंदा गांव में मंगलवार की सुबह चुनावी रंजिश के चलते पूर्व प्रधान ने नवनिर्वाचित प्रधान बलवान प्रजापति के परिजनों पर फायरिंग कर दी। जिससे नवनिर्वाचित प्रधान के कई परिजन घायल हो गए जिसमें दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। नवनिर्वाचित प्रधान पर गोली मारने का आरोप लगाया है। नवनिर्वाचित प्रधान ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है अब देखना यह होगा कि प्रशासन इस पर क्या कार्रवाई करता है।