सिरोही- मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजेश कुमार ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए सभी गाइडलाइन का पालन करना आवश्यक है। मास्क लगाने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग और बार बार हाथ धोने जैसे उपायों को अपनाकर कोरोना से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रमों में भी सरकार द्वारा तय की गई संख्या के अनुसार ही आमजन को भागीदारी सुनिश्चित करने की आवश्यकता है, जिससे कि संक्रमण का फैलाव कम से कम हो। पूरी सावधानी और सतर्कता से कोरोना को मात देने में सफल हो सकेंगे।
सीएमएचओ डॉ. राजेश कुमार ने बताया कि वैक्सीनेशन के बाद भी, सावधानी और सतर्कता से कोरोना को मात देने में सफल हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि जिले में व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन वाले लाभार्थी समय पर दोनों डोज लगवाएं और वैक्सीनेशन को लेकर फैलायी जा रही अफवाहों पर ध्यान ना दें। उन्होंने कहा कि हालांकि दोनों डोज लगने के बाद भी कोरोना से संक्रमित हो सकता है लेकिन ऐसे में जनहानि की आशंका नगण्य हैं। उन्होंने कहा कि मास्क वैक्सीन से ज्यादा प्रभावी है, इसलिए घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाना नहीं भूलें।
सीएमएचओ डॉ. राजेश कुमार ने बताया कि जिले में चिकित्सा संस्थानो पर कोविड-19 टीकाकरण सत्रों का आयोजन हो रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड वैक्सीन का टीका पूर्ण सुरक्षित है। उन्होंने बताया की वैक्सीनेशन के बाद भी व्यक्ति को नियमित रूप से मास्क लगाना है, भीड़ भाड़ वाली जगह में जाने पर 2 गज की दूरी, बार-बार हाथ धोना जैसी सावधानियां लगातार रखनी हैं। उन्होंने बताया की जिले में 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगो के 61282 व 45 साल से 59 साल तक उम्र के 12870 लोगों के कोविड का टीका लग चूका है, कोई किसी प्रकार का साइड इफेक्ट नजर नही आया है।

रिपोर्ट हेमन्त अग्रवाल राजस्थान ब्यूरो चीफ