उरई(jalaun)। गेस्ट हाउस में काम करने वाले कर्मचारी का शव गेस्ट हाउस में लगे तीन सेट पर फांसी पर लटका मिला जिससे कर्मचारियों में हड़कंप मच गया लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी मौके पर पहुंचे कोतवाल नागेंद्र कुमार पाठक व फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुँचकर जांच पड़ताल की इस बाबत कोतवाल का कहना है कि युवक ने शराब के नशे में फांसी लगाई है। फिलहाल मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। मौके पर पहुंचे परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

शहर कोतवाली क्षेत्र के मेडिकल कॉलेज स्थित एक गेस्ट हाउस में काम करने वाले बोहदपुरा निवासी रामस्वरूप के पुत्र विनोद उम्र 38 वर्ष में सोमवार की सुबह गेस्ट हाउस की टीन सेड की नीचे फांसी लगा ली।

सुबह जब मौजूद लोगों ने उसे फांसी पर लटका देखा तो उसकी सूचना पुलिस के साथ तो उसके परिजनों को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सबको जांच पड़ताल के बाद फांसी से उतरा वाया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के परिजनों ने बताया कि वह तीन भाई और दो बहन थे,। उसकी मौत से पत्नी और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल है। वह गेस्ट हाउस में काम कर परिवार का भरण पोषण करता था।

  • रिपोर्ट : दीपू द्विवेदी