वायरस जनित बीमारियों को जड़ से खत्म करने में सक्षम है होम्योपैथी दवाएं

by shubham

कानपुर। आरोग्य धाम ग्वालटोली में आज डेंगू, मलेरिया, चिकुनगुनिया, कोरोना एवं विचित्र बुखार में होम्योपैथी दवाओं की उपयोगिता नामक विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में डॉ अनिल कुमार, (एसपी वेस्ट) शामिल हुए तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ सिधांशु राय, अस्सिस्टेंट प्रोफेसर, सीएसजेएम कानपुर यूनिवर्सिटी उपस्थित रहे।


इस अवसर पर मुख्य वक्ता आरोग्य धाम ग्वालटोली के वरिष्ठ होम्योपैथी चिकित्सक डॉ हेमंत मोहन ने कहा कि होम्योपैथी दवाओं में किसी भी वायरल जनित बीमारी को जड़ से ख़त्म करने की पूर्ण क्षमता है। मुख्य अतिथि ने कहा कि इस कोरोना काल में होम्योपैथी दवाओँ की उपयोगिता न ही सिर्फ कोरोना से प्रतिरक्षण में अपितु कोरोना के इलाज में भी उपयोगी सिद्ध हुई हैं।

विशिष्ट अतिथि सुधांशु राय ने कहा कि होम्योपैथी व आरोग्य धाम ने इस कोरोना काल मे शहर को एवं मरीजो को मुस्कुराने के अनगिनत मौके दिए है। डॉ मनीष विश्नोई, डेंटल इम्प्लांट सर्जन, विश्नोई डेण्टल क्लिनिक ने कहा कि बदलते मौसम में वायरल होने से पहले ही होम्योपैथी इम्युनिटी बूस्टर दवा कहा लेना ही समझदारी है।.


डॉ आरती मोहन ने कहा कि गर्भवती व स्तनपान कराती स्त्रियों को होम्योपैथी दवाओं की अधिक जरूरत है, क्योंकि इसका कोई विपरीत असर बच्चे पर नही पड़ता है। रोटरी क्लब ऑफ कानपुर विनायक श्री के भूतपूर्व अध्यक्ष रोटेरियन सचिन दीक्षित ने कहा कि सरकार को होम्योपैथी के उत्थान के लिए और कदम उठाने की जरूरत है।
कार्यक्रम के अंत मे आरोग्य धाम के संस्थापक आरआरमोहन ने आये हुए अतिथियों का धन्यवाद किया। कार्यक्रम में डॉ अभिषेक सिंह, डॉ रमा शर्मा, डॉ मयंक सिंह, डॉ स्मिता, डॉ प्रज्ञा पांडेय, डॉ0 प्रियंका गुप्ता, आशीष यादव उपस्थित रहे।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts